तवा पुल मरम्मत में लापरवाही, ठेकेदार पर एफआईआर दर्ज

तवा पुल मरम्मत में लापरवाही, ठेकेदार पर एफआईआर दर्ज

इटारसी। तवा पुल  (Tawa Bridge) की मरम्मत में लापरवाही और बीच में काम छोड़कर चले जाने पर ठेकेदार के खिलाफ देहात थाने में एफआईआर (FIR) हुई है। एमपीआरडीसी (MPRDC) के डीएम प्रवीण निमजे (DM Praveen Nimje) की शिकायत पर देहात थाना नर्मदापुरम (Narmadapuram)में एफआईआर दर्ज हुई है।
बताया जाता है कि तवा ब्रिज की मरम्मत के लिए शेष काम को पूर्ण करने के लिए एमपीआरडीसी ने कलेक्टर (Collector) को आवेदन देकर ब्रिज (Bridge) पर आवागमन बंद करने की अनुमति मांगी है। पुराने ठेकेदार पर एफआईआर दर्ज हो गयी है। उस पर काम में लापरवाही, लोगों की जान से खिलवाड़ करने और बार-बार नोटिस के बावजूद काम नहीं करने को आधार बनाया गया है।
तवा से फिर रुकेंगी आवाजाही
तवा ब्रिज के वर्तमान हालात यह हैं कि हैवी वाहन इस पर से गुजरते हैं तो ब्रिज में बहुत तेज कंपन होता है और ऐसा लगता है मानो ब्रिज टूट जायेगा। हालांकि एमपीआरडीसी के अधिकारी बताते हैं कि ब्रिज में कंपन होना जरूरी है, और यह चिंता जैसी बात नहीं है। एमपीआरडीसी के संभागीय प्रबंधक प्रवीण निमजे के अनुसार जिला प्रशासन को 14 अप्रैल से तवा ब्रिज से पूरा ट्रैफिक बंद करने का आवेदन दिया है। अगर तवा ब्रिज चलने वाले पूरे यातायात को जिला प्रशासन बंद करा देता है तो हम पूरी क्षमता से काम करेंगे।
पिछली कंपनी ने की लापरवाही
पिछले महीने ही 70 लाख रुपए से तवा ब्रिज के 56 एक्सपेंशन ज्वाइंट (Expansion Joint)की रिपेयरिंग (Repairing) विभाग ने ठेका कंपनी होंसला प्रसाद मिश्रा भोपाल (Bhopal) से कराई थी। चार महीने तक मरम्मत का काम चला। 24 फरवरी को ब्रिज से आवाजाही शुरू हुई तो मरम्मत कार्य की पोल खुल गई। भारी वाहनों की आवाजाही से ब्रिज के 15 एक्सपेंशन ज्वाइंट धंस गए। आनन-फानन में प्रशासन ने ब्रिज से भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी। ब्रिज पर भारी वाहनों के आने-जाने पर पाबंदी है, लेकिन भारी वाहनों को रोकने लगाये हाइटगेज (Hightage) टूट जाने से ब्रिज से ही वाहन धड़ल्ले से निकल रहे हैं।



CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!