आठ लाख की चोरी का उम्रदराज आरोपी छह दिन में गिरफ्तार

आठ लाख की चोरी का उम्रदराज आरोपी छह दिन में गिरफ्तार

इटारसी। जीआरपी (GRP) ने 13 फरवरी को भारतीय नौसेना से रिटायर्ड अब्दुल वाहिद (Abdul Wahid) पिता अब्दुल खालिद (Abdul Khalid) 62 वर्ष की पत्नी का पर्स चोरी करने के आरोपी को गिरफ्तार करके घटना का खुलासा कर दिया है। मामले में 65 वर्ष के बिहार (Bihar) निवासी आरोपी शामिल रहा था। जीआरपी थाना में आज शाम निरीक्षक बीव्ही टांडिया (Inspector BV Tandia) ने मीडिया से चर्चा में बताया कि 13 फरवरी 22 को भारतीय नौ सेना से रिटायर्ड फरियादी अब्दुल वाहिद पिता अब्दुल खालिद उम्र 62 साल निवासी ए/301 बसई रोड, जयराय सिंह हाऊसिंग सोसायटी (Jai Rai Singh Housing Society), जिला पालघर (District Palghar) महाराष्ट्र (Maharashtra) अपनी पत्नी एवं परिजन के साथ ट्रेन 12142 पाटलीपुत्र एक्सप्रेस (Patliputra Express) से बक्सर (Buxar) से मुंबई (Mumbai) की यात्रा कर रहे थे। यात्रा के दौरान इटारसी स्टेशन (Itarsi Station) से ट्रेन के चलने पर अज्ञात चोर ने उनका पर्स उड़ा लिया।

पर्स में था यह सामान

चोरी हुए ब्लैक ग्रे रंग के लेडीस पर्स में सोने के 04 कंगन, 04 चूड़ी, सोने की 02 अंगूठी 01 वीवो कंपनी का मोबाईल ब्राउन कलर का, नगदी, घर की चाबियां थी। घटना की रिपोर्ट जीआरपी थाना भुसावल (GRP Police Station Bhusaval) में की गई थी। केस डायरी (Case Diary) प्राप्त होने पर थाना जीआरपी इटारसी में अपराध 84/22 धारा 379 भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। गंभीर चोरी की घटना को दृष्टिगत रखते हुये वरिष्ठ अधिकारियों ने माल मुलजिम की तलाश हेतु टीम गठित की और विशेष रूप से उक्त प्रकरण हेतु लगाया। वरिष्ठ अधिकारियों के सतत मार्गदर्शन में आरोपी के तलाश के लिए गहन अनुसंधान किया जा रहा था तथा रेल रक्षा समिति के सदस्यों एवं आरपीएफ फोर्स के साथ लगातार माल मुलजिम की सुराग के प्रयास किये जा रहे थे। विवेचना दौरान आरोपी की तलाश की गई जिसके फलस्वरूप एक संदेही को पकड़ने में टीम को सफलता प्राप्त हुई। मौके पर मामले में चोरी गया 1 मोबाइल वीवो कंपनी का बरामद किया।

बुरहानपुर (Burhanpur) से माल बरामद

मामले में आरोपी राजेंद्र राय (Rajendra Rai) पिता स्व. भृगुनाथ राय (Bhrigunath Rai) उम्र 65 साल निवासी ग्राम भदवार थाना बगेल गोल थाना जिला बदसर बिहार से माल की बरामदगी के लिए न्यायालय में आरोपी को प्रस्तुत कर आरोपी का पुलिस रिमांड (Police Remand) लिया और अपराध में चोरी गया। उसने अपने रिश्तेदार के यहां बुरहानपुर (Burhanpur) में झोले में यह सब माल रख दिया और रिश्तेदारों को भी नहीं बताया था। वहां से सोने का 04 कंगन, सोने की 04 चूड़ी, सोने की 02 अंगूठी, नगदी 1000 रुपए सहित कुल मसरुका लगभग 08 लाख 10 हजार रुपये आरोपी से बरामद करने में जीआरपी इटारसी पुलिस को सफलता मिली है।

इनकी रही भूमिका

उप पुलिस अधीक्षक रेल इटारसी ((DSP Rail Itarsi)) सुश्री अर्चना शर्मा (Ms. Archana Sharma), निरीक्षक बीभेदु व्यंकट टांडिया (Inspector Bibhedu Vankat Tandia), सउनि अब्दुल शरीफ (Abdul Sharif), सउनि मेहरबान सिंह (Meherban Singh), प्रधान आरक्षक कृष्ण कुमार यादव (Krishna Kumar Yadav), आरक्षक संदीप (Sandeep), सुमित (Sumit), अमित तोमर (Amit Tomar), महफूज (Mahfouz), दीपक सेन (Deepak Sen), विष्णुमूर्ति शुक्ल (Vishnumurti Shukla), हरीशंकर दुबे (Harishankar Dubey), मायाशंकर (Mayashankar), मनोज (Manoj), प्रकाश तिवारी (Prakash Tiwari), साइबर सेल मुकेश शुक्ला (Cyber ​​Cell Mukesh Shukla)की सहयनीय भूमिका रही।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!