24 घंटे के अंदर चोरी का खुलासा, केबिन से 15 लाख उड़ाये थे

24 घंटे के अंदर चोरी का खुलासा, केबिन से 15 लाख उड़ाये थे

– नगदी सहित 14 लाख 94 हजार पांच सौ रुपए जब्त
इटारसी/पिपरिया। पुलिस ने एक अनाज व्यापारी के यहां हुई चोरी की घटना का चौबीस घंटे के भीतर खुलासा कर दिया है। व्यापारी के यहां काम करने वाले कर्मचारी ने ही उनके यहां से पंद्रह लाख रुपए से अधिक की रकम उड़ा ली थी। उसने कुछ पैसे खर्च कर दिये। पुलिस ने 14 लाख 94 हजार पांच सौ रुपए जब्त किये हैं। आरोपी कमलेश कहार पिता डिल्ला कहार, उम्र 34 साल, निवासी ग्राम भटगांव थाना सोहागपुर, हाल निवास कहार मोहल्ला ग्राम हथवास थाना पिपरिया है।
पिपरिया के मंगलवारा थाना अंतर्गत हुई इस घटना के बाद 9 जून को फरियादी मनीष भट्टर पिता विजय भट्टर उम्र 47 साल निवासी, काबरा कालोनी जाकिर हुसैन वार्ड पिपरिया थाना पिपरिया ने रिपोर्ट दर्ज करायी थी कि उसकी फेथ एग्री सॉलुशन प्राइवेट लिमिटेड के नाम से सीमेंट रोड पिपरिया में अनाज व्यापार की फर्म है। 09 जून 2022 को सुबह करीबन 10 बजे वह अपने घर से व्यापारिक लेनदेन के लिए 15 लाख 20 हजार रुपये लेकर आया था तथा बैग में रखकर ड्राज में लाक कर रखा था। ड्रॉज की चाबी उसके मुनीम गोपाल सराठे के पास थी। दोपहर करीबन 2 बजे वह अपनी फर्म से मिल (कारखाना) चला गया था, और फर्म पर वह अपने कर्मचारी जितेन्द्र कहार एवं कमलेश कहार को देखरेख हेतु छोड़कर चला गया था। जब करीबन एक घंटे बाद उसका मुनीम गोपाल सराठे फर्म पर आया और उसने देखा फर्म में काउंटर की ड्रॉज का ताला टूटा पड़ा था, तब मुनीम गोपाल सराठे ने फोन लगाकर उसे फर्म पर बुलाया। वह अपनी फर्म गया तो उसने देखा फर्म का ड्रॉज का ताला टूटा वहीं पास में पड़ा था, फिर उसने ड्राज में रखे रुपये देखे तो ड्रॉज में रखे उसके पन्द्रह लाख बीस हजार रुपये नहीं थे। कर्मचारी कमलेश कहार निवासी हथवास जो कि विगत 20 साल से उसके घर व उसकी फर्म पर चाय-पानी देने का काम करता था। बिना बताए फर्म से गायब था। रिपोर्ट पर अपराध 192/2022 धारा 379 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया।
पुलिस अधीक्षक गुरकरन सिंह ने घटना को गंभीरता से लेते हुये पतासाजी करते हुये आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय नर्मदापुरम अवधेश प्रताप सिंह एवं अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) पिपरिया शिवेन्दु जोशी (रा.पु.से.) के मार्गनिर्देशन में थाना प्रभारी पिपरिया उमेश तिवारी के नेतृत्व में टीम गठित कर लगायी गयी। उक्त संदेही आरोपी कमलेश कहार निवासी हथवास की तलाश पतासाजी हेतु उसके रिश्तेदारों व परिजनो को चिन्हित करते हुये विश्वसनीय मुखबिर की सूचना पर उक्त संदेही आरोपी कमलेश कहार निवासी हथवास का सोहागपुर के पास होना पाये जाने पर टीम द्वारा तत्परता से दबिश दी जाकर उक्त संदेही आरोपी कमलेश कहार निवासी हथवास को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई जिसने स्वयं सेठ मनीष भट्टर की ड्रॉज से 15 लाख बीस हजार रुपए चोरी करना बताते हुये पकड़े जाने के डर से यहां-वहां भागने में कुछ रुपये खर्च होना बताया। शेष नगदी 14 लाख 94 हजार पांच सौ रुपए पेश किया।,
चोरी की घटना का खुलासा करने में सउनि प्रकाश सिंह राजपूत, प्रधान आरक्षक सुनील मरकाम, सुनील कुमार चौधरी, आरक्षक अजय सिंह चौहान, अजमेर सिंह परिहार, अंजलि चौहान की उल्लेखनीय भूमिका रही। थाना प्रभारी निरीक्षक उमेश तिवारी, उपनिरीक्षक आम्रपाली डहाट, संयोगिता वर्मा, अभिषेक नरवरिया की सराहनीय भूमिका रही।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!