सांसद ने सुनी सराफा व्यवसाय की दिक्कतें, निदान का आश्वासन
MP listened to the problems of bullion business

सांसद ने सुनी सराफा व्यवसाय की दिक्कतें, निदान का आश्वासन

इटारसी। सांसद उदयप्रताप सिंह (MP Uday pratap Singh) ने सराफा व्यावसायियों की दिक्कतों को समझा है। उनके इटारसी दौरे के वक्त सराफा कारोबारियों ने उनसे मुलाकात करके हॉलमार्क एवं एचयूआईडी संबंधी कानूनों के क्रियान्वयन में आ रही समस्याएं बतायी थीं। चर्चा के दौरान उन्होंने सारी बातों को समझा और इनके निदान कराने का आश्वासन भी दिया है।
उल्लेखनीय है कि सांसद उदयप्रताप सिंह दौरे पर आए थे तो उनसे चर्चा के दौरान युवा सराफा व्यवसायी रितेश शर्मा (Ritesh Sharma) एवं मिक्की गोठी ने एसोसिएशन (Mickey Gothi Association) की ओर से पक्ष रखा एवं सुधीर गोठी, संतोष सोनी, सुधीर गुप्ता ने सर्राफा व्यवसाय में आ रही समस्याओं पर विस्तृत चर्चा की। सारी बातों को सुनने तथा विस्तृत चर्चा के पश्चात सांसद ने शासन के पक्ष तथा कानूनों से आमजन को मिलने वाले लाभ से अवगत कराया तथा समस्याओं के संबंध में वरिष्ठ स्तर पर अधिकारियों एवं मंत्री से चर्चा कर समस्याओं के निराकरण का विश्वास दिलाया। इस दौरान हरिओम सोनी, पप्पू खंडेलवाल, राजीव शर्मा, वैभव अग्रवाल, राहुल खंडेलवाल, पंकज जैन, सुनील मालवीय, शंकर रसाल सहित इटारसी सराफा की प्रत्येक दुकान के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।
– 20 कैरेट शुद्धता (83.3 प्रतिशत) की हॉलमार्किंग को लागू किया जाए। इस शुद्धता के ज़ेवर अत्यधिक मात्रा में बनाए जाते हैं तथा पारंपरिक रूप से 85 प्रतिशत शुद्धता के जेवरों का व्यवसाय होता रहा है।
– क्वालिटी कंट्रोल के लिए हॉलमर्किंग (hallmarking) के अलावा एचयूआईडी की अतिरिक्त बाध्यता केवल व्यापार को जटिल एवं छोटे व्यापारियों को परेशान करेगी
– 2 ग्राम से ज़्यादा वजन के हर ज़ेवर पर एक यूनिक अंक लेना और उत्पादन से ग्राहक तक उसका ट्रैक रखना संभव नहीं है
– हॉलमार्किंग में कई दिन लगते हैं, जिससे सीजन पर माल आने में देरी होने के पूरे आसार हैं
– हॉलमार्क मुताबिक शुद्धता नहीं निकलने पर रिटेलर को सजा का प्रावधान उचित नहीं है क्योंकि न तो वो उत्पादन कर रहा है, ना ही वो शुद्धता की जांच कर रहा है।
– एचयूआईडी (HUID) को सरकारी पोर्टल पर खरीदी बिक्री के हिसाब से प्रतिदिन लोड करना सभी माध्यम एवं छोटे वर्ग के व्यापारियों के लिए संभव नहीं है, खासकर छोटे शहरों एवं ग्रामों में।

 

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!