कल देशभर के ज्वेलर्स रहेंगे हड़ताल पर, इटारसी में असमंजस की स्थिति

कल देशभर के ज्वेलर्स रहेंगे हड़ताल पर, इटारसी में असमंजस की स्थिति

इटारसी। भारतीय मानक ब्यूरो (Indian Standards Bureau) के एचयूआईडी के विरोध में कल 23 अगस्त को देशभर के ज्वेलर्स हड़ताल (jewelers strike) पर रहेंगे। लेकिन इटारसी में अभी असमंजस की स्थिति है। दरअसल, न तो प्रांत स्तर से और ना ही जिला स्तर से सराफा एसोसिएशन ने इटारसी सराफा एसोसिएशन से कोई संपर्क किया है। ऐसे में इटारसी सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष यज्ञदत्त गौर (President Yagyadutt Gaur) का कहना है कि अभी तय नहीं है कि इटारसी के ज्वेलर्स हड़ताल में शामिल होंगे या नहीं।
उल्लेखनीय है कि सरकार द्वारा 16 जून को हाल मार्क कानून 256 जिलों में अनिवार्य कर दिया जिसका पूरे देश के ज्वेलर्स ने स्वागत किया। लेकिन भारतीय मानक ब्यूरो बीआईएस पिछले दरवाजे से एचयूआईडी लेकर आ गई है जिसका विरोध पूरे देश के ज्वेलर्स 23 तारीख को सांकेतिक हड़ताल कर कर अपना व्यापार बंद करके कर रहे हैं। ज्वेलर्स मानते हैं कि एचयूआईडी एक विनाशकारी प्रक्रिया है। वर्तमान कानून के प्रक्रिया में आभूषणों को कोई सुरक्षा प्रदान नहीं करती है। पंजीकरण रद्द करने, दंडात्मक प्रावधान, क्रिमिनल ऑफेंस, जब्ती व सीजिगं का प्रावधान उद्योग में इंस्पेक्टर राज लाएगी। एचयूआईडी ग्राहकों के भी खिलाफ है’ और व्यापार करने में सरलीकरण व आसानी के सिद्धांत के विपरीत हैं। मध्यप्रदेश में सालाना एक से डेढ़ करोड़ ज्वेलरी पीस निर्माण होता है और पुराने जेवर जिनकी हाल मार्किंग होनी है वहां अलग और वर्तमान में मध्य प्रदेश में सिर्फ 16 सेंटर हैं। वर्तमान में नई मार्किंग प्रणाली मतलब एचयूआईडी प्रणाली से मध्यप्रदेश में 8 से 10 दिन में मार्किंग हो पा रही है जिससे पूरा व्यापार ठप पड़ा हुआ है। छोटे लाटो में मार्किंग हो ही नहीं पा रही है जिससे छोटा मध्यम व्यापारी के साथ कारीगर भी परेशान है। देश के अधिकांश ज्वेलर्स 23 तारीख को राष्ट्रव्यापी सराफा बंद कर कर सांकेतिक हड़ताल पर रहेंगे, इटारसी में अनिश्चय की स्थिति है।

 

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!