Category: संपादकीय/विशेष आलेख

झरोखा: तू जिंदा है जिंदगी की जीत पर यकीन कर

Poonam Soni- 10/05/2021

पंकज पटेरिया। हम जिंदा है हमे जिंदगी की जीत पर यकीन है। यह पुख्ता अहसास ही हमारी जीत है। (more…) Read More

संपादकीय : आखिर, किस मुगालते में, जी रहे हैं आप सरकार

Manjuraj Thakur- 09/05/2021

वैश्विक महामारी कोविड-19 से मिली रहीं तकलीफें और सरकार की मूकदर्शिता अब सहनसीलता की सरहदें लांघ गयी हैं। आखिर सरकारें कब तक जनता के धैर्य ... Read More

स्मृतिशेष: सुश्री जयश्री तरडे सुर सरिता सूरसागर में हुई लीन

Poonam Soni- 06/05/2021

(झरोखा:पंकज पटेरिया)/ नर्मदा अंचल संगीत आकाश की जगमग ज्योति तरीका संगीतदेवी सुर सरिता देश विदेश के अपने सैंकड़ों शिष्यों से बिछुड़ कर चिर निद्रा में ... Read More

समीक्षा: खिड़कियों से झांकते अपने-अपने एकांत

Poonam Soni- 04/05/2021

विपिन पवार/ विख्‍यात ब्रिटिश लेखक एवं राजनेता ऑगस्टिन बिरेल ने कहा है कि ‘’बावर्चियों, योद्धाओं और लेखकों का आंकलन इस बात से किया जाना चाहिए ... Read More

झरोखा: मौत के साज पर भारी जीवन का महा राग

Poonam Soni- 03/05/2021

पंकज पटेरिया। कोरोना कहर की भयावहता जग जाहिर है, बार बार उसका जिक्र करना, समझदारी नहीं, इससे हमारा मनोबल गिरता है। (more…) Read More

लघुकथा: मुझे जीवन में लोकतंत्र के तीसरे स्तंभ का हिस्सा बनने का अवसर मिला

Poonam Soni- 26/04/2021

सत्येंद्र सिंह/ मुझे जीवन में एक पत्रिका का संपादक बनने का अवसर मिला। मैं तो बल्लियों उछल गया। लोकतंत्र के तीसरे स्तंभ का हिस्सा। (more…) Read More

नहीं रहे इतिहासकार डॉ. सुरेश मिश्र

Poonam Soni- 23/04/2021

डॉ. सुरेश मिश्र – व्यक्ति और इतिहासकार कैलाश मंडलेकर: मैं इस बात के लिए अक्सर गौरवान्वित हुआ करता हूँ कि डॉ. सुरेश मिश्र मेरे गुरु ... Read More

Editorial: रेस्ट हाउस की जमीन बेचने की निविदा…क्या उचित कदम है?

Poonam Soni- 21/04/2021

इटारसी। प्रदेश सरकार द्वारा रेस्ट हाउस (Rest house) की जमीन बेचने की निविदा निकलने के बाद शहर के अनेक लोगों में इस बेशकीमती भूमि को ... Read More

विशेष: मैं चिताओं में धूं- धूं कर, जल रहे लाेगाें का सवाल हूं..

Poonam Soni- 21/04/2021

स्नेह सुरभि। ना मैं भक्त हूं ना विपक्ष और ऐसा विपक्ष ताे कतई नहीं जाे पंगू हाे, भीरू हाे। (more…) Read More

स्मृतिशेष: राम राम लिखते राम में लीन हुए राम दादा

Poonam Soni- 21/04/2021

पंकज पटेरिया/ उनका दर्शन देव पुरूष का दिव्य दर्शन था, उनका सानिध्य आलौकिक अनुभूति से मन प्राणों को भिगों देता था। (more…) Read More

error: Content is protected !!
Narmadanchal

FREE
VIEW