घाट सहित पुनर्वास केंद्र का निरीक्षण कर कलेक्टर ने अधिकारियों को किया अलर्ट

घाट सहित पुनर्वास केंद्र का निरीक्षण कर कलेक्टर ने अधिकारियों को किया अलर्ट

निचले इलाके आदमगढ़, बंगाली कॉलोनी एवं राहत पुनर्वास केंद्र का किया निरीक्षण

होशंगाबाद। जिले में हो रही लगातार बारिश को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर धनंजय सिंह ने शनिवार को सेठानीघाट नर्मदा नदी के जलस्तर का जायजा लिया। मौके पर एसडीएम होशंगाबाद आदित्य रिछारिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे सेठानीघाट सहित अन्य घाटों पर मॉनिटरिंग लगातार जारी रखें। उन्होंने नियंत्रण कक्ष का भी जायजा लिया।

यहां छोडा जा रहा पानी
बारिश के चलते तवा, बारना एवं बरगी बांध से समय-समय पर पानी छोड़ा जा रहा है। उन्होंने निर्देशित किया कि जल संसाधन विभाग के अधिकारी एवं एसडीएम आपस में लगातार संपर्क में रहे। समन्वय स्थापित कर बांधो से पानी छोड़ा जाए ताकि नर्मदा नदी का जलस्तर नियंत्रित रहे। उन्होंने डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट होमगार्ड को निर्देशित किया कि वे जिले के चिन्हित संवेदनशील क्षेत्रों, घाटों पर होमगार्ड की टीम तैनात रखें। नाव, मोटरबोट एवं जीवन रक्षा सामग्रियों कि पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करे। कलेक्टर ने सेठानी घाट स्थित बाढ़ नियंत्रण कक्ष का निरीक्षण किया एवं बाढ़ नियंत्रण कक्ष में अलार्म एवं मॉनिटरिंग आदि व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने बाढ़ नियंत्रण कक्ष में नियुक्त अधिकारी कर्मचारियों को 24 घंटे सक्रियता से काम करने के निर्देश दिए।

राहत पुनर्वास केंद्र का भी निरीक्षण
नर्मदा महाविद्यालय में बनाए गए राहत पुनर्वास केंद्र का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने निर्देशित किया कि राहत पुनर्वास केंद्रों में खाद्यान्न सामग्री, चिकित्सा सुविधाएं इत्यादि सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद रखी जाएं। नगरपालिका अधिकारी ने कहा कि पुनर्वास केंद्रों पर साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें। हाइपोक्लोराइट सॉल्यूशन का नियमित छिड़काव किया जाए। नगरपालिका की टीम मुस्तैद रहें। शहर के प्रमुख नाले,नालियों कि सघंन साफ-सफाई सुनिश्चित कराएं ताकि किसी भी जगह जलभराव की स्थिति निर्मित ना हो। इसके बाद कलेक्टर ने बाढ़ संभावित निचले इलाके आदमगढ़ बंगाली कॉलोनी का निरीक्षण किया उन्होंने कॉलोनी के रहवासियों से चर्चा की और आग्रह किया कि वे लगातार हो रही बारिश के चलते सतर्क रहें किसी भी प्रकार की परेशानी उत्पन्न होने पर प्रशासन को सूचित करें।

Read this news…

अपडेट: तवा Tawa के गेटों की ऊंचाई कम की

बांध (Dam) के गेट ( gate) देखने तवानगर न जाएं, पछताना पड़ेगा

अभी और होगी संभाग के जिलों में भारी वर्षा (Heavy rainfall)

तवा बांध (Tawa Dam) के पांच गेट खुले, 40,415 क्यूसेक डिस्चार्ज

 

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: