COVID-19: अगर आपके पास है आयुष्मान कार्ड तो इन अस्पतालों में कराए कोरोना का इलाज

COVID-19: अगर आपके पास है आयुष्मान कार्ड तो इन अस्पतालों में कराए कोरोना का इलाज

भोपाल। आयुष्मान योजना(Ayushman Yojana) के अंतर्गत भोपाल के 24 अस्पतालों(Hospitals) में कोविड(Covid) का इलाज हो सकेगा। कलेक्टर अविनाश लवानिया(Collector Avinash Lavania) ने आदेश जारी कर बताया कि आयुष्मान योजना (Ayushman Yojana) के अंतर्गत पंजीकृत अस्पताल अपने यहां 20 बेड कोविड मरीजों(Covid Patients) के इलाज के लिए आरक्षित करें। इसके संबंध में 24 हॉस्पिटलों में आयुष्मान कार्डधारी(Ayushman Cardholder) व्यक्तियों के कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए व्यवस्थाएं चालू हो जाएंगी। वर्तमान में 12 से अधिक हॉस्पिटल आयुष्मान योजना(Ayushman Yojana) के अंतर्गत पंजीकृत लोगों के इलाज के लिए उपलब्ध हो गए हैं। आगामी 17 सितम्बर से 6 और 19 तारीख से छह अन्य हॉस्पिटल में आयुष्मान कार्ड वाले लोगों के इलाज के लिए उपलब्ध होंगे।

300 से अधिक ऑक्सीजन बेड उपलब्ध
इन सभी हॉस्पिटलों में 300 से अधिक ऑक्सीजन बेड(Oxygen beds) भी उपलब्ध कराए जाएगें। आईसीयू(ICU) के साथ 54 वेंटीलेटर(Ventilator), 18 वेंटीलेटर आईसीयू के बिना, 50 बेड बिना ऑक्सीजन के साथ भी कोरोना मरीजों के उपचार के लिए जिले में उपलब्ध होंगे। जिले में कोई भी व्यक्ति जिसके पास आयुष्मान कार्ड है वह इन अस्पतालों में जाकर अपना कोरोना संक्रमण का इलाज कराकर इसका भुगतान आयुष्मान कार्ड से करेगा।

इन हाॅस्पिटल में मिलेगी सुविधा
कोलार एसडीएम(Kolar SDM) के अंतर्गत अक्षय हॉस्पिटल, नोबेल, नर्मदा, आरकेडीएफ, पुष्पांजलि, सिद्धांता, सहारा हॉस्पिटल, हुजूर एसडीएम के अंतर्गत रुद्राक्ष मल्टीसिटी हॉस्पिटल और लीलावती गोविंदपुरा एसडीएम के अंतर्गत केयर मल्टी और अनंत श्री, बैरागढ़ में बीएमएग्रीन सिटी, एलबीएस, राजदीप ,सेंट्रल हॉस्पिटल, गुरु आशीष हॉस्पिटल, जवाहरलाल कैंसर हॉस्पिटल, माहेश्वरी, सर्वोत्तम, सिल्वर लाइन, टीटी नगर में पीपुल्स हॉस्पिटल, एमपी नगर में सहारा और पालीवाल हॉस्पिटल, आयुष्मान योजना के अंतर्गत पंजीकृत लोगों के इलाज के लिए बेड उपलब्ध रहेंगे। इसके अतिरिक्त नेशनल हॉस्पिटल और करोंद मल्टी सिटी हॉस्पिटल में भी कोई भी व्यक्ति अपने स्वयं के व्यय पर कोरोना संक्रमण का इलाज करा सकता है। यह दोनो हॉस्पिटल आयुष्मान योजना में पंजीकृत नहीं है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: