शैक्षणिक गुणवत्ता बढ़ाने दिया आचार्य कौशल विकास एवं दक्षता प्रशिक्षण

शैक्षणिक गुणवत्ता बढ़ाने दिया आचार्य कौशल विकास एवं दक्षता प्रशिक्षण

इटारसी। कौशल विकास एवं दक्षता प्रशिक्षण – नयी शिक्षा नीति (New Education Policy) के अंतर्गत क्रिया आधारित शिक्षा के लिए अध्यापन कराने वालों की शैक्षणिक गुणवत्ता बढ़ाने के उद्देश्य से सरस्वती शिशु मंदिर आर्यनगर (Saraswati Shishu Mandir) में पांच दिवसीय आचार्य कौशल विकास एवं दक्षता वर्ग (Skill Development and Skills Class) का आयोजन किया गया था। पांच दिन तक अनेक महत्वपूर्ण जानकारी और तरीकों को बताने के बाद आज वर्ग का समापन हो गया।

सरस्वती शिशु मंदिर आर्यनगर में पांच दिवसीय विकास वर्ग का समापन कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्य योगेश शुक्ला एवं गणित प्रमुख गुलाब चन्द्र द्विवेदी के मुख्यातिथ्य एवं विशेष अतिथि कम्प्यूटर (Computer) प्रमुख रीतेश पटैल व पूर्व प्राचार्य सुनील सोनी (गोविंद नगर) ने दीप प्रज्वलित करके किया।

कार्यक्रम की भूमिका रखते हुए वर्ग संयोजक प्राचार्य योगेश शुक्ला ने बताया कि, इस वर्ग का उद्देश्य नयी शिक्षा नीति के तहत क्रिया आधारित शिक्षा द्वारा स्कूल के आचार्य दीदीयों में शैक्षणिक गुणवत्ता बढ़ाना है। इस वर्ग में 30 आचार्य दीदी ने भाग लिया।

इस अवसर पर मुख्य वक्ता गुलाबचंद द्विवेदी ने आचार्य एवं अभिभावक समन्वय एवं शिशु मंदिर योजना पर अपने विचार व्यक्त किए। संचालन वरिष्ठ आचार्य रामगोपाल शर्मा एवं आभार प्रदर्शन श्रीमती कृष्णा मालवीय ने किया।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!