मानसून में जल भराव से बस्तियों को बचाने की कवायद जारी

मानसून में जल भराव से बस्तियों को बचाने की कवायद जारी

  • – एसडीएम और सीएमओ ने किया बाढ़ संभावित निचली बस्तियों का निरीक्षण
  • – एसडीएम कार्यालय में बैठक कर बाढ़ राहत कार्यों की तैयारियों की समीक्षा
  • – अधिकारियों को अति वर्षा की स्थिति में आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए गए

इटारसी। मानसून समीप है, ऐसे में शहर की कुछ निचली बस्तियों में जल भराव का इतिहास को देखते हुए प्रशासन पूर्व तैयारियों में जुटा है। प्रशासन ने उन क्षेत्रों का निरीक्षण किया जहां से जलभराव की संभावना होती है, इसे कैसे रोका जाए, इसकी योजना तैयार करने एक बैठक भी आयोजित की गई। एसडीएम टी प्रतीक राव (SDM T Pratik Rao) और मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्रीमती ऋतु मेहरा (Chief Municipal Officer Smt. Ritu Mehra) ने बाढ़ संभावित क्षेत्र का दौरा करके जहां से पानी आकर बाढ़ की स्थिति निर्मित करता है या जहां जलभराव होता है, ऐसे क्षेत्र देखे।

अधिकारी सीपीई गेट के पास (Near CPE Gate), घाटली रपटा (Ghatli Rapta), गोंडी मोहल्ला (Gondi Mohalla) और अवाम नगर (Awam Nagar) पहुंचे तथा वहां देखा कि कैसे इन क्षेत्रों में लोगों को बाढ़ से बचाव करके राहत दी जा सकती है। नगर के ऐसे क्षेत्रों का निरीक्षण करने के बाद एसडीएम कार्यलय में एक बैठक भी आयोजित की गई जिसमें जनपद पंचायत केसला के सीईओ सहित एसडीएम टी प्रतीक राव, तहसीलदार सुनीता साहनी (Sunita Sahni), शासकीय अस्पताल के अधीक्षक डॉ. आरके चौधरी (Dr. RK Chaudhary), तवा परियोजना (Tawa Project) के अधिकारी शामिल हुए। सभी को अति वर्षा की स्थिति में आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए गए और अभी तक की तैयारियों एवं बचाव की तैयारी की जानकारी ली गई।

Royal
CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!