मतपत्र के मॉडल से समझा रहे हैं कैसे करें सटीक मतदान

मतपत्र के मॉडल से समझा रहे हैं कैसे करें सटीक मतदान

विज्ञान शिक्षक राजेश पाराशर का नवाचारी प्रयोग

इटारसी। पंचायत मतदान केन्द्र में प्रवेश के बाद जब आप अपनी तर्जनी पर स्याही लगवा चुके होंगे तब आपको दो- दो करके चार मतपत्रों पर अपनी पसंद के प्रत्याशी को वोट देना है। इसके लिये मतपत्रों पर मुहर आपके पसंद के प्रत्याशी के लिये निर्धारित सही स्थान पर लगे इसके लिये केवल आप ही तय कर पायेंगे।

आपका सटीक मतदान हो इस बारे में विज्ञान शिक्षक राजेश पाराशर ने मतपत्रों के रचनात्मक मॉडल तैयार किये हैं। इनकी मदद से वे नर्मदापुरम जिले के विभिन्न विकासखंडों के ग्रामों, खेत-खलिहानों में जाकर पूर्ण तथा सटीक मतदान के लिये जागरूकता कार्यक्रम कर रहे हैं।

राजेश पाराशर ने बताया कि कलेक्टर नीरज कुमार सिंह एवं जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम के मार्गदर्शन में ये कार्यक्रम कर रहे हैं। राजेश पाराशर द्वारा तैयार इन रचनात्मक मॉडल में सटीक मतदान का प्रशिक्षण देने सिग्नल एवं बजऱ का उपयोग किया गया है। जब प्रशिक्षण लेने वाला व्यक्ति सही स्थान पर मुहर लगाता है तो हरा सिम्नल जल जाता है, संदेहास्पद मतदान करने पर पीला और गलत स्थान पर मुहर लगाने पर लाल सिग्नल और बजऱ की आवाज आती है।

कार्यक्रम के दौरान यह बताया जाता है कि यह सिखाने के लिये रचनात्मक मॉडल है। वास्तविक मतदान में सिर्फ कागज के मतपत्र होंगे उसमें सिग्नल या हार्न नहीं होंगे। चूंकि मतदाताओं को चार मतपत्र में अपने पसंद के प्रत्याशी देखकर उनको अलग-अलग मत देना है इसलिये सावधानी पूर्वक मुहर लगाने पर आप सटीक मतदान कर पायेंगे और आपका वोट ग्राम सरकार बनाने में बनेगा भागीदार।

कार्यक्रम में एमएस नरवरिया एवं हरीश चौधरी ने मॉडल का संयोजन किया।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!