चुनावी चौपाल : तूफान आएगा या बादल छा कर, बिना बरसे चले जाएंगे

चुनावी चौपाल : तूफान आएगा या बादल छा कर, बिना बरसे चले जाएंगे

  • Rohit Nage : 

सदर मुकाम भी भाजपा की झोली में आ गया है। जिले की चार नगर पालिकाओं और दो नगर परिषद में भाजपा को जनता ने नगर सरकार बनाने के लिए आदेश दिया है। लेकिन, इटारसी में पिछली बार की अपेक्षा इस बार दोगुनी सीट हासिल करने वाली कांग्रेस चुप बैठ गयी है, या भाजपा की जीत के आगे उसकी गतिविधि शांत हो गयी है, ऐसा सोचना गलत होगा।
कांग्रेस के नेता दोगुनी सीट मिलने से उत्साहित हैं, और फिलहाल जो शांति दिखाई दे रही है, वह तूफान आने के पहले की शांति है। तूफान कितना असरकारक होगा, या मौसम की तरह बादल छाने के बावजूद बिना बरसे रह जाएंगे, इसका खुलासा आगामी एक या दो दिन में होने की संभावना है।

रणनीति अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष की

पार्टी सूत्रों के अनुसार जल्द ही पार्टी (आज भी हो सकती है) जीते हुए अपने पार्षदों की एक सम्मान बैठक कर सकती है। इसमें नगर पालिका अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद पर अपने किसी पार्षद को चुनाव लड़ाने की रणनीति पर काम प्रारंभ किया जा सकता है। दरअसल, कांग्रेस को 14 सीटें मिली हैं, जो बहुमत से थोड़ी कम हैं। पार्टी को भाजपा की चार सीटें जुगाड़ से अपने खाते में आने की उम्मीद है। सूत्र बताते हैं कि इसके लिए आलाकमान से नगर कांग्रेस अध्यक्ष पंकज राठौर और प्रदेश प्रवक्ता राजकुमार केलू उपाध्याय को इशारे मिले हैं। खबर में तो दम है, लेकिन मैदान में कांग्रेस कितना दम दिखाती है, यह आने वाला समय बताएगा।

हार को पचा नहीं पा रहे नेता

कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता, जिनको जनता ने नकार दिया है, वे अपनी हार को पचा नहीं पा रहे हैं। दरअसल, उनको भरोसा ही नहीं हो रहा है कि जनता ने उनको हरा दिया है। उनकी पक्की सोच बन गयी है कि उनको जनता ने नहीं बल्कि उनके अपनों ने ही हराया है। उनकी यह पीड़ा सोशल मीडिया पर उजागर कर रहे हैं। उनका कहना है कि उनको अपनों से ही धोखा मिला है। इसमें कुछ तो सच्चाई होगी, क्योंकि चुनावी चौपाल पर चर्चा में दावा किया जा रहा है और विभिन्न वार्डों में खुलकर नाम लिये जा रहे हैं। हालांकि दावों के समर्थन में कोई पुख्ता सबूत नहीं दिये जा रहे हैं।
कुल जमा हालात यह है कि जो हारे हैं, उनके विषय में चर्चा आम है, कि कांग्रेसियों ने ही कांग्रेस प्रत्याशियों को हराया और भाजपा प्रत्याशियों को भाजपा के भितरघातियों ने ही हराया है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!