जयंत दुबे हत्याकांड के चार आरोपी गिरफ्तार

जयंत दुबे हत्याकांड के चार आरोपी गिरफ्तार

इटारसी। पथरोटा पुलिस (Pathrota Thana) ने ग्राम सांकई के जंगल में हुई युवक की हत्या (Young man killed) की गुत्थी सुलझा ली है। मामले में चार आरोपी गिरफ्तार(Aaropi Arrest) किए हैं जबकि एक आरोपी की गिरफ्तारी होना शेष है। पथरोटा पुलिस ने आज मामले का खुलासा किया। पुलिस के अनुसार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए 2 टीम बनाई गई थीं जिनमें थाना प्रभारी प्रज्ञा शर्मा(Station in-charge Pragya Sharma), सहायक उपनिरीक्षक भोजराज बरबड़े (Assistant Sub-Inspector Bhojraj Barbade), शिव प्रसाद तिवारी (Shiv prashad Tiwari), प्रधान आरक्षक अनिल ठाकुर (Head constable Anil Thakur), भागीरथ मालवीय, आरक्षक टिल्ल उईके, सियाराम, टीटू, संदीप धुर्वे, संजय और पिंटू को शामिल किया।

ऐसे दिया हत्या को अंजाम 
पुलिस के अनुसार जयंत दुबे ने राजेश विश्वकर्मा की लड़की को बहला-फुसलाकर ले गया था और राजेश विश्वकर्मा के साथ घर में घुसकर मारपीट भी की थी। इसी बात को लेकर उनकी रंजिश थी। कमलेश विश्वकर्मा ने उसके दोस्त रामजीवन यादव, राहुल बरकड़े, लाल सिंह परते तथा जितेंद्र उर्फ जूली के साथ बरगद के पेड़ के नीचे सोंठिया में योजना बनायी। 10 अक्टूबर की रात 9 बजे रामजीवन यादव को भेजकर जयंत दुबे को बरगद के पेड़ के नीचे बुलाया और शराब पीने के बहाने से मोटरसाइकिल पर कमलेश एवं जितेंद्र ने जयंत दुबे को बीच में बैठाकर सांकई के जंगल में ले गए। राहुल उसकी मोटरसाइकिल से लाल सिंह, रामजीवन और मुन्ना यादव को लेकर इनके पीछे की जंगल में पहुंचे। मौका देखकर कमलेश, जितेंद्र, राहुल, रामजीवन तथा लाल सिंह ने उसके साथ मारपीट की। राहुल और जयंत दुबे के हाथ-पैर पकड़े तथा कमलेश ने रामजीवन के लाल रंग के शर्ट को फाड़कर जयंत दुबे का गला घोंटा एवं सीने, पेट और पीठ पर चोट पहुंचाई। जितेन्द्र उर्फ लल्ला ने पास में पड़ा पत्थर उठाकर जयंत का सिर कुचल दिया और रामजीवन ने भी जयंत से मारपीट की जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। लोधड़ी के रास्ते घटना में प्रयुक्त शर्ट को जला दिया और मोटरसाइकिल से कमलेश व जितेन्द्र रिश्तेदारी में आठनेर तरफ भाग गए। इन आरोपियों कमलेश उर्फ कम्मू पिता फूलचंद विश्वकर्मा निवासी धाईं खुर्द तथा जितेंद्र उर्फ जूली उर्फ लल्ला विश्वकर्मा पिता फूलचंद विश्वकर्मा को एनखेड़ा से सहायक उपनिरीक्षक भोजराज बरबड़े, प्रधान आरक्षक अनिल, आरक्षक सियाराम, टीटू एवं टिल्लू ने गिरफ्तार किया तथा टिमरनी बस स्टैंड से उप निरीक्षक प्रज्ञा शर्मा, प्रधान आरक्षक भागीरथ, हेमंत, संजय, पिंटू और संदीप ने रामजीवन उर्फ मुन्ना यादव पिता राधेलाल यादव निवासी पीपलढाना और लाल सिंह उर्फ लल्ला पिता राजू परते निवासी धाईखुर्द को आज ही गिरफ्तार किया। सभी ने जुर्म कबूल कर लिया है। मामले का एक आरोपी राहुल वरकडे अभी फरार है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: