इंदौर के आश्रम में आधा दर्जन बच्चों की मौत, एक बच्चा इटारसी का भी

इंदौर के आश्रम में आधा दर्जन बच्चों की मौत, एक बच्चा इटारसी का भी

इटारसी। इंदौर (Indore) के युग पुरुष धाम आश्रम (Yug Purush Dham Ashram) में हुई आधा दर्जन बच्चों की मौत का इटारसी कनेक्शन भी है। इन छह बच्चों में एक बच्चा इटारसी (Itarsi) का भी है जिसकी मौत हुई है। इन बच्चों की मौत 27 जून से 1 जुलाई के मध्य होना बताया जा रहा है। प्रशासन इसकी जांच में जुटा है। इस बीच इटारसी की एक महिला ने अपने बच्चे मौत पर प्रशासन को कटघरे में खड़ा किया है। इटारसी में रानी (Rani) नाम की महिला रेलवे स्टेशन पर काम करती है, बर्तन मांझती है और दुकानों में सफाई आदि करके अपने बच्चे पाल रही है।

उसका कहना है कि करीब दो माह पूर्व इटारसी रेलवे स्टेशन (Itarsi Railway Station) से उसके बेटे आकाश (Akash) को जीआरपी (GRP) वाले यह कहकर ले गए थे कि बच्चे का दिमाग कम है, इलाज से ठीक हो जाएगा। इसके बाद उसका पता नहीं चला। उन्होंने नहीं बताया कि कौन से अस्पताल या आश्रम में रखा है। मंगलवार को इटारसी में रानी की सहेली को प्लेटफार्म पर काम करने वाली एक संस्था प्रमुख का फोन आया था। फोन पर बताया कि रानी को बोल दें, कि उसके बेटे की तबीयत ठीक नहीं है। जब रानी उनके पास उनके पास गई तो उन्होंने वहां से कलेक्टोरेट भेज दिया। यहां से उसे इंदौर के आश्रम का पता देकर अनिता ( Anita) मैडम से मिलने को कहा गया।

जब वह इंदौर पहुंची तो उसे अपने बेटे आकाश की लाश मिली। रानी का कहना है कि इससे अच्छा तो वह उसके पास रहता था। स्टेशन पर काम करती, बर्तन मांझती, दुकानों में सफाई करती, लेकिन उसका ध्यान रखती थी। युग पुरुष आश्रम में 2 जुलाई को मृत सात वर्षीय आकाश की मां रानी डेढ़ साल के बच्चे व भाई रवींद्र (Ravindra) के साथ इंदौर पहुंची थी और वहां आकाश को दफनाया। रानी ने कहा, आकाश थोड़ा बोल लेता था। पोहे, जलेबी या जो चाहता सब खिलाती थी। मेरे पिता आकाश से बहुत प्यार करते थे। उसे हर समय अपने साथ रखते थे। इस संस्था ने उसकी जान ले ली।

इस मामले में जब जीआरपी थाना प्रभारी रामस्नेह चौहान (Ramsneh Chauhan) से बात की गई तो उन्होंने कहा कि वे मई माह में अवकाश पर रहे हैं, उनकी जानकारी में ऐसा कोई मामला नहीं है। उन्होंने कहा कि जीआरपी न तो किसी बच्चे को कहीं भर्ती करती है और ना ही इलाज कराते हैं। उस महिला को क्या समझ आयी पता नहीं। हो सकता है, कोई संस्था के लोग आए हों।

बता दें कि इंदौर के युग पुरुष आश्रम में छह बच्चों की डायरिया, डिहाईड्रेशन से मौत हो गयी है। प्रशासन मामले की जांच कर रहा है और इसमें संस्था की लापरवाही सामने आयी है। बताया जाता है कि बच्चों में हैजा का वायरस मिला है। प्रशासन ने आश्रम की मान्यता निरस्त करने का नोटिस दिया है।

Royal
CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!