Video: कलेक्टर ने जिला अस्पताल में खाना चखा, व्यवस्था में सुधार के निर्देश
Collector tasted food in the district hospital

Video: कलेक्टर ने जिला अस्पताल में खाना चखा, व्यवस्था में सुधार के निर्देश

होशंगाबाद। जिला अस्पताल (District hospital) में स्वास्थ सुविधाओं को और अधिक मजबूत किया जाए। अस्पताल आने वाले मरीजों को समय पर गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं प्राप्त हों यह सुनिश्चित करें। यह निर्देश कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सिविल सर्जन (Civil surgeon) जिला चिकित्सालय को दिए हैं। कलेक्टर सिंह ने मंगलवार को जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने अस्पताल में आए मरीजों व उनके परिजनों से रूबरू चर्चा कर स्वास्थ सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर ने अस्पताल में मरीजों के लिए बनाए गए भोजन को स्वयं चखकर गुणवत्ता देखी और संतोष व्यक्त किया।
कलेक्टर ने जिला अस्पताल में ओपीडी कक्ष, आयुष्मान रजिस्ट्रेशन कक्ष, डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर, बच्चा वार्ड, भोजनकक्ष, कोविड आईसीयू वार्ड, पोषण पुनर्वास केंद्र का निरीक्षण किया और अस्पताल प्रबंधन को अस्पताल में सभी प्रकार के जांच उपकरणों का सुचारू रूप से संचालन करने के निर्देश दिए। अस्पताल में एक डायलिसिस व इको मशीन बंद मिलने की शिकायत पर इन मशीनों को शीघ्र ठीक करने के निर्देश सिविल सर्जन को दिए। उन्होंने अस्पताल के समस्त वार्डों सहित पूरे परिसर में सफाई का विशेष ध्यान रखने, पार्किंग व्यवस्था को शीघ्र दुरुस्त करने, जर्जर भवनों को डिस्मेंटल करने साथ ही अस्पताल परिसर में खड़े अनावश्यक खराब वाहनों को भी नीलामी करने, परिसर में उचित स्थान पर गार्डन बनाने, अस्पताल परिसर में मवेशी न घुसे, उनके नियंत्रण के लिए संबंधित कांट्रेक्टर को सख्त निर्देश दिए जाए।

कलेक्टर सिंह ने अस्पताल में 700 एलपीएम और 1000 एलपीएम के ऑक्सीजन प्लांट (oxygen plant) का भी निरीक्षण किया और बेड्स पर ऑक्सीजन कनेक्टिविटी का अवलोकन किया। इसके बाद कलेक्टर सिंह ने राष्ट्रीय पुनर्वास केंद्र का निरीक्षण किया और बच्चों को दिए जाने वाले पोषण आहार के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने एनआरसी में ग्राम ईशरपुर की भूरा केवट से उनके शिशु के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर सिंह ने एनआरसी प्रभारी को निर्देशित किया कि बच्चों को समय पर पोषण आहार का सेवन कराया जाए तथा डिस्चार्ज हुए बच्चों का नियमित फॉलोअप करें। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रदीप मोजेस, डॉ रविंद्र गंगराड़े (Dr. Ravindra Gangrade) सहित अन्य स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: