‘मैं भी कोरोना वालेंटियर’ अभियान प्रारंभ, जानिए क्या है ये

‘मैं भी कोरोना वालेंटियर’ अभियान प्रारंभ, जानिए क्या है ये

कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में वालेंटियर्स/स्वयंसेवकों को जोडक़र जन-जागरूकता अभियान का संचालन

होशंगाबाद। प्रमुख सचिव, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग गुलशन बामरा (Department of Statistics Gulshan Bamra) से प्राप्त जानकारी के अनुसार कोरोना संक्रमण की प्रभावी रोकथाम के लिए सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों के साथ समाज को सक्रिय रूप से भागीदार बनाने के उद्देश्य से राज्य शासन द्वारा ‘मैं भी कोरोना वालेंटियर’ अभियान प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया है। कोरोना वालेंटियर्स/स्वयंसेवकों का पंजीयन निम्न श्रेणियों में राज्य शासन के पोर्टल mp.mygov.in, http://mapit.gov.in/covid-19 एवं सीएम हेल्पलाइन (181) पर प्रारंभ किया गया है-

1. वैक्सीनेशन स्वयंसेवक

वैक्सीनेशन सेंटर वालेंटियर

वैक्सीनेशन प्रेरक

वैक्सीनेशन हेल्पर

2. चिकित्सा सुविधा स्वयंसेवक

चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी देना

चिकित्सा हेतु परिवहन में सहयोग

3. मास्क जागरूकता स्वयंसेवक

मास्क वितरण

मास्क लगाने के लिए टोकना एवं प्रेरित करना

बिना मास्क लगाए घूमने वालों को रोकना

4. मोहल्ला टोली संगठन स्वयंसेवक

होम क्वारेंटाइन मददगार

संस्थागत क्वारेंटाइन मददगार

अपने मोहल्ले/गली/कॉलोनी की जवाबदारी

उपरोक्त सभी श्रेणियों के अंतर्गत निर्धारित उप-श्रेणियों में ऑनलाइन पंजीकरण कराने वाले एवं स्वयंसेवक बनने के इच्छुक आवेदकों की जिलावार सूची जन-अभियान परिषद् जिला कार्यालय द्वारा तैयार की जाएगी। जन अभियान परिषद् के जिला प्रबंधक, जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन में इस अभियान के लिए नोडल अधिकारी के रूप में कार्य करेंगे।

अभियान के जिला स्तरीय नोडल अधिकारी (जिला समन्वयक जन अभियान परिषद्) द्वारा विभिन्न श्रेणियों में पंजीकृत स्वयंसेवकों की सूची के साथ जिला कलेक्टर से सम्पर्क किया जाएगा। तत्पश्चात् जिला कलेक्टर्स द्वारा पंजीकृत स्वयंसेवकों को उनके द्वारा चयनित श्रेणियों एवं उप-श्रेणियों के आधार पर जिले के भीतर निर्धारित क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण से बचाव के जनसेवा एवं जन-जागरूकता कार्यों में संलग्न किया जाएगा।

अभियान अंतर्गत कार्य प्रारंभ करने से पूर्व जिले के सभी स्वयंसेवकों के लिए जिला कलेक्टर द्वारा एक ओरिएन्टेशन कार्यक्रम जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर आयोजित किया जाएगा। ओरिएन्टेशन कार्यक्रम में स्वयंसेवकों को कार्य के उद्देश्य, स्वरूप, कार्यक्षेत्र, उत्तरदायित्व, आवश्यक सावधानियां आदि के विषय में विस्तार से जानकारी दी जाएगी।

इस प्रकार कोरोना के विरूद्ध लड़ाई के लिए पूरी रह से तैयार जिले के स्वयंसेवकों को कोरोना की रोकथाम हेतु जिला स्तर पर उस श्रेणी के जन-जागरूकता कार्यक्रमों एवं सेवा कार्यों में सक्रिय सहभागी बनाया जाएगा, जिस श्रेणी के लिए संबंधित व्यक्ति द्वारा वालेंटियर के रूप में कार्य करने की स्वीकृति प्रदान की गई है।

स्वयंसेवक के रूप में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किसी प्रकार के मानदेय का भुगतान नहीं किया जाएगा। यह पूर्णत: नि:शुल्क सामाजिक सेवा एवं जागरूकता का कार्यक्रम है। जिला स्तरीय नोडल अधिकारी (जिला समन्वयक जन अभियान परिषद्) द्वारा पंजीकृत स्वयंसवेकों तथा अभियान अंतर्गत उनके द्वारा जिले में किए जा रहे कार्यों की सम्पूर्ण जानकारी नियमित रूप से एकत्र कर जन-अभियान परिषद् मुख्यालय को प्रेषित की जाएगी।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: