हिन्दी दिवस पर हुआ कवि समागम का आयोजन

हिन्दी दिवस पर हुआ कवि समागम का आयोजन

होशंगाबाद। आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत राष्ट्रीय हिन्दी दिवस के अवसर पर नर्मदा आव्हान सेवा समिति व्दारा कवि समागम, सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि अतंर्राष्ट्रीय कवि प्रो ओमपाल सिंह निडर, वरिष्ठ कवि पवांर हिन्दुस्तानी, कर्नल गिरीजेश नारायण सक्सेना रहे। कार्यक्रम प्रसिद्ध कवि धूमकेतु की अध्यक्षता मे सम्पन्न हुआ। अतिथिओ एवं कवियों का स्वागत निर्मला राय, केप्टन करैया, हंस राय ने किया।
इस दौरान कवियों ने आतंकवादियों, समाज द्रोहियों, पाकिस्तान सहित व्यवस्था पर करारे व्यंग्य किये। दो सत्रों में चले इस आयोजन में जहां वरिष्ठ कवियों ने अपनी शानदार कविताओं से प्रभावित किया वही युवा कवियों ने अपनी ओजस्वी कविताओं से हॉल गूंज उठा।
मुख्यातिथि निडर ने हिंदी दिवस कार्यक्रम की बधाई और कार्यक्रम की सराहना करते हुए उठो साथियों निज धर्म मिट न जाए, बहनो जागो निज शरम बिक न जाएये प्रस्तुत की। पवांर हिन्दुस्तानी ने आजादी के तार तार पर गाढा खून चढा होता है। भगत, सुभाष, तिलक, गांधी वहीं अमर होता है।
कर्नल गिरीजेश ने कहा भोपाल मेरी जन्मभूमि ओर सारा देश मेरी कर्मभूमि है। होशंगाबाद के घाट से मैरी कविता की शुरुआत हुई।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: