पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार के लिए स्थानीय लोगों को प्रशिक्षित किया जाएं

पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार के लिए स्थानीय लोगों को प्रशिक्षित किया जाएं

होशंगाबाद। राज्यपाल मंगुभाई पटेल (Governor Mangubhai Patel) ने कहा है कि वन मध्यप्रदेश का गौरव हैं, हमारे वन कुदरती सौंदर्य से भरपूर होने साथ ही प्रदेश को प्रदूषण मुक्त भी बनाते है। सभी की जिम्मेदारी है कि वनों के संरक्षण के लिए बेहतर प्रयास किए जाएं। जनजातीय समाज और वन एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। जनजातीय समाज के संरक्षण से ही वनों का संरक्षण होगा। राज्यपाल पटेल शुक्रवार को राजभवन पचमढ़ी (Raj Bhavan Pachmarhi) में विकास कार्यों एवं योजनाओं की प्रगति के संबंध में अधिकारियों से चर्चा कर रहे थे।
इस अवसर पर विधायक पिपरिया ठाकुर दास नागवंशी (MLA Pipariya Thakur Das Nagvanshi), अपर आयुक्त आरपी सिंह जादौन (Additional Commissioner RP Singh Jadaun), मुख्य वन संरक्षक आरपी राय (Chief Conservator of Forests RP Rai), कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh), पुलिस अधीक्षक गुरुकरण सिंह (Superintendent of Police Gurukaran Singh), ब्रिगेडियर हरीश गर्ग (Brigadier Harish Garg) सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

फसलों का चक्रीय क्रम अपनाएं
राज्यपाल पटेल ने कहा कि उत्पादन को बढ़ाने और भूमि की उर्वरा शक्ति को बनाए रखने के लिए आवश्यक है कि चक्रीय क्रम में फसलों को लिया जाए। कृषि क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा आधुनिक तकनीकी का उपयोग किया हो। किसानों को इसके लिए प्रेरित करें।

औषधि पौधों का रोपण करें
राज्यपाल पटेल ने कहा कि वन विभाग द्वारा किए जा रहे पौधारोपण कार्य में औषधि पौधों का रोपण ज्यादा से ज्यादा वन एवं पर्यटन क्षेत्रों में किया जाए। जनजातीय समाज के लिए संचालित योजनाओं में संबंधित विभाग द्वारा वन विभाग के साथ समन्वय जरूरी है ताकि योजनाओं का प्रभावी ढंग से क्रियान्वयन हो सके।

उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करें
राज्यपाल पटेल ने कहा कि बच्चों को प्रेरित किया जाए कि वे उच्च शिक्षा ग्रहण करें। राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि स्थानीय लोगों को रोजगार के विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण के लिए ट्रेनिंग सेंटर बनाएं जाए। रोजगार मेलों के माध्यम से भी ज्यादा से ज्यादा स्थानीय लोगों को लाभान्वित करने के प्रयास हो। बैठक में लोक निर्माण विभाग, वन विभाग, सतपुड़ा टाइगर रिजर्व, पर्यटन विकास निगम, छावनी बोर्ड आदि विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा संचालित कार्यों की विस्तार से जानकारी दी गई।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!