करवा चौथ (Karwa Chouth) के दिन पति अपनी पत्नी को दे ये तोहफा

करवा चौथ (Karwa Chouth) के दिन पति अपनी पत्नी को दे ये तोहफा

करवा चौथ पर बाजार में लौटी रौनक

इटारसी। करवा चौथ का व्रत (karwa chauth 2020) कार्तिक मास (Kartik mas) की कृष्ण पक्ष (Krishna Paksh) की चतुर्थी तिथि को धुमधाम से किया जाता है। यह पर्व सुहागन महिलाओं के लिए विशेष महत्वपूर्ण होता है। इस दिन महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए पूरे दिन निर्जल व्रत (Nirjal Vrat) रखती हैं और शाम की पूजा के बाद चंद्रमा को अर्घ्य देकर अपने पति के हाथों से पानी पीती हैं। इस बार करवाचौथ पर सर्वार्थ सिद्धि का योग है। चतुर्थी तिथि 3 नवंबर मंगलवार को रात 1:05 बजे शुरू हो जाएगी, जो 4 नवंबर बुधवार को रात 2:10 बजे तक रहेगी। मृगशिरा नक्षत्र के स्वामी चन्द्रमा हैं। राशि के स्वामी शुक्र और बुध हैं। इसलिये बुधवार को दिनभर सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा। अन्य पर्व व त्योहार की तरह कोरोना काल का प्रभाव करवा चौथ पर भी पड़ रहा है।

ये गिफ्ट करें अपनी वाइफ को

डायमंड रिंग- पत्नी को स्पेशल फील कराने के लिए आप उन्हें डायमंड की रिंग गिफ्ट में दे सकते हैं. किसी भी रिश्ते में प्यार मायने रखता है पैसे नहीं। ये गिफ्ट पाकर उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहेगा।

पार्लर का पैकेज- अगर आपकी पत्नी पार्लर जाकर ब्यूटी ट्रीटमेंट्स कराती हैं तो आप उन्हें इसके पैकेज दे सकते हैं। ऐसे में उन्हें एक दिन काम से छुट्टी मिल जाएगी और वह अपनी स्किन को पैंपर कर सकती हैं।

किताब- बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिन्हें किताबे पढ़ना काफी पसंद होता है। तो अगर आपकी पत्नी को भी कितीब पढ़ने का शौक है तो आप कोई अच्छी से किताब गिफ्ट कर सकती हैं।

डिनर डेट– पार्टनर के साथ डिनट डेट पर जाना किसे नहीं पसंद होता। हर कोई चाहता है कि सामान्य जीवन से हटकर वह कुछ अच्छा समय अपने पार्टनर के साथ स्पेंड करें. ऐसे में डिनर डेट एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है।

फोटो कोलाज- आप अपनी पत्नी को उनकी बचपन से लेकर अबतक की कई तस्वीरों का एक कोलाज बनाकर भी गिफ्ट कर सकते हैं।

स्टाइलिश हैंड बैग- अपनी पत्नी की पंसद के अनुसार उन्हें खुबसूरत सा हैंडबैग भी गिफट कर सकते हैं। इसके साथ ही आप हैंड बैग किट भी दे सकते हैं। जिसमें सभी साइज के बैग होते हैं।

गैजेट दे उपहार
अपनी पत्नी को उनकी जरूरत के हिसाब से गैजेट भी दे सकतें है। ताकि वह अपनी यादें उसमें सहेजकर रख सकें।

पति करें ये 3 काम 

पति इस बात को ध्यान रखें कि करवा चौथ में जितना महत्व पूजा और व्रत का होता है, उतना ही करवा चौथ की कथा का भी है। कथा में भगवान गणेशजी के वरदान की कहानी है जिसे सुनने से भाग्य जागता है। इसलिए करवाचौथ के दिन हर पति को इस कथा को ध्यान से सुनना चाहिए।

– पति-पत्नी का जन्म-जन्मांतर का अटूट प्रेम बंधन तभी जीवंत रह सकता है जबकि आपने सच्चे वायदे पूरे करने की कसम खाई हो व उसे साकार रूप प्रदान किया हो। जीवनसाथी से धोखा करना सरासर बेईमानी है, जिससे आपसी विश्वास को ठेस पहुंचती है। इन सारे संकल्पों को आत्मसात कर लें। याद रखिए करवा चौथ का असली महत्व तभी सार्थक होगा, जब आप दोनों निश्चिंत होकर एक-दूसरे के सहयोग से अपनी दुनिया सजाएंगे।

– करवाचौथ के दिन कोशिश करें कि पत्नियों से घर का कोई काम ना कराएं। इस दिन आप अपनी पत्नी की घर के कामों में मदद जरूर करें। एक दिन के लिए अपने मोबाइल, लैपटॉप से दूरी बना लें और उन्हें पूरा टाइम दें।

पूजन का शुभ मुहूर्त- स्थिर लग्न में पूजन का मुहूर्त शाम 6:15 से रात 8:10 बजे तक है। चंद्रोदय शाम 8:23:42 बजे होगा। उसके बाद से पूजन-अर्चन अर्घ्य दिया जाएगा।

 

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: