निजी चिकित्सालय में 20 प्रतिशत बेड कोविड 19 मरीजों के लिए आरक्षित होंगे

निजी चिकित्सालय में 20 प्रतिशत बेड कोविड 19 मरीजों के लिए आरक्षित होंगे

होशंगाबाद। कोविड-19 के मरीजों को अब आयुष्मान भारत योजना(Ayushman Bharat Scheme) के अंतर्गत चिन्हित अस्पतालों(Hospital) में बेहतर उपचार उपलब्ध कराया जाएगा।यह आदेश लोक स्वास्थ्य(Public health) एवं परिवार कल्याण विभाग(Family Welfare Department) मध्यप्रदेश शासन द्वारा जारी किए गए हैं। जारी आदेशानुसार कोविड-19 से लगातार संक्रमित हो रहे व्यक्तियों की संख्या के दृष्टिगत चिन्हित अस्पतालों में अनिवार्य रूप से कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए 20 आइसोलेशन(isolation) आरक्षित होंगे। डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम मैनेजर स्वास्थ्य विभाग दीपक डेहरिया(District Program Manager Health Department Deepak Dehria) ने बताया कि इसके लिए होशंगाबाद जिले में आयुष्मान भारत योजनान्तर्गत चिन्हित चार चिकित्सालय नर्मदा अपना अस्पताल होशंगाबाद, न्यू पांडे हॉस्पिटल होशंगाबाद, कमलाबाई प्रेम नारायण मालवी अस्पताल होशंगाबाद एवं दयाल मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल इटारसी को चिन्हित किया गया है।

चिन्हित अस्पतालों में आरक्षित 20
बेड पर सामान्य रूप से कोविड-19 के मरीजों को सेवाएं प्रदान करेंगे तथा आवश्यक सेवाएं जैसे डायलिसिस, ब्लड ट्रांसफ्यूजन, कीमोथेरेपी, संस्थागत प्रसव तथा अन्य आवश्यक सेवा जिसकी विभाग को समय.समय पर आवश्यकता होती है। तो चिकित्सकीय संस्थान को कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति एवं संभावित व्यक्ति को उनके परिसर में इलाज करने की इजाजत दी जाएगी। जिसके लिए वे भारत शासन एवं मंत्रालय, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, आईसीएमआर, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के दिए गए निर्देशों का पालन करेंगे साथ ही क्लीनिकल संक्रमण से बचाव हेतु नियमों का पालन ए प्रवेश तथा निर्गम के लिए कोविड से संक्रमित मरीजों एवं समान मरीजों के अलग.अलग व्यवस्था करेंगे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: