दीक्षारंभ समारोह में विद्यार्थियों को नए परिवेश में सहज करने, संस्कृति सिखाने दी सीख

दीक्षारंभ समारोह में विद्यार्थियों को नए परिवेश में सहज करने, संस्कृति सिखाने दी सीख

इटारसी। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के पत्र के अनुक्रम एवं उच्च शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन के आदेशानुसार प्रवेश उत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत भगवान बिरसा मुंडा शासकीय महाविद्यालय सुखतवा (Bhagwan Birsa Munda Government College Sukhtawa) में तीन दिवसीय दीक्षारंभ समारोह 1 से 3 जुलाई 2024 तक मनाया गया। समारोह का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों को नए परिवेश में सहज महसूस करने, उनमें संस्थान की विशिष्ट प्रकृति तथा संस्कृति को सिखाने, अन्य छात्रों और संकाय सदस्यों के साथ संबंध बताने, उन्हें व्यापक उद्देश्य तथा स्वयं की खोज की भावना से परिचित कराना है।

प्राचार्य श्रीमती कामधेनु पटोदिया (Principal Mrs. Kamdhenu Patodiya) के मार्गदर्शन एवं मुख्य आतिथ्य में समस्त संकाय प्रभारी, प्राध्यापक, कर्मचारी, मार्गदर्शक, वरिष्ठ छात्र एवं पूर्व विद्यार्थियों की उपस्थिति में प्रथम दिन समारोह का उद्घाटन नव प्रवेशित विद्यार्थियों को प्राचार्य एवं स्टाफ ने उपहार भेंट कर किया। प्राचार्य ने स्वागत भाषण प्रस्तुत कर संस्थान का परिचय दिया। दीक्षारंभ समारोह नवप्रवेशित विद्यार्थियों हेतु अभिप्रेरण सत्र 2024-25 के अंतर्गत स्वागत एवं अभिमुखीकरण कार्यक्रम के अंतर्गत संस्थान का सम्पूर्ण परिचय, विजन, परिसर का अवलोकन, नई शिक्षा नीति एवं छात्रों के साथ इंटरेक्टिव सत्र आयोजित किया।

द्वितीय दिन शैक्षणिक अभिविन्यास के अंतर्गत छात्रवृत्ति, पाठ्यक्रम, कैरियर परामर्श, पाठ्येत्तर गतिविधियों के परिचय तथा प्रयोगशालाओं, पुस्तकालय का अवलोकन कराया गया। तीसरे दिन विद्यार्थी जीवन और सहायता प्रणाली, सांस्कृतिक और सामाजिक गतिविधियां परिचय और मार्गदर्शन प्रदान किया गया। इस अवसर पर डॉ. हिमांशु चौरसिया (Dr. Himanshu Chaurasia), डॉ. राधा आशीष पांडे (Dr. Radha Ashish Pandey), डॉ प्रवीण कुशवाहा (Dr. Praveen Kushwaha), उमेश कुमार पहाड़े (Umesh Kumar Pahade), डॉ. धीरज गुप्ता (Dr. Dheeraj Gupta), डॉ.वेद प्रकाश भारद्वाज (Dr. Ved Prakash Bhardwaj), डॉ.सौरभ तिवारी (Dr. Saurabh Tiwari), डॉ. पूर्णिमा अतुलकर (Dr. Purnima Atulkar), श्रीमती संध्या उपाध्याय (Smt. Sandhya Upadhyay) सहित कर्मचारियों के साथ विद्यार्थी भारी संख्या में उपस्थित रहे। संचालन डॉ सतीश ठाकरे ने एवं आभार डॉ मंजू मालवीय ने व्यक्त किया।

Royal
CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!