मध्यप्रदेश की पर्यटन और हस्तशिल्प की पहचान को स्थापित करेंगी नई सडकें

मध्यप्रदेश की पर्यटन और हस्तशिल्प की पहचान को स्थापित करेंगी नई सडकें

बैतूल। केन्द्रीय सड़क परिवहन(Central road transport) और राजमार्ग एवं सूक्ष्म, लघु और मध्यम-उद्यम मंत्री नितिन गडकरी(Minister Nitin Gadkari) ने मध्यप्रदेश की अनेक सडकों के लोकार्पण के साथ ही नए कार्यों के लिए आधारशिला रखी। वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से कुल 11 हजार 427 करोड़ की लागत से 1361 किमी लम्बाई की 45 सडक परियोजनाओं के शिलान्यास और लोकार्पण संपन्न हुए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने मंत्रालय स्थित कक्ष से इसमें हिस्सा लिया, जबकि वर्चुअल कार्यक्रम में केंद्र सरकार और प्रदेश के कई मंत्री, सांसद, विधायक भी अलग.अलग स्थानों से इसमें सम्मिलित हुए। जिले से सांसद डीडी उइके(MP DD Uike) ने इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शिलान्यास लोकार्पण कार्यक्रम में भाग लिया।

700 करोड की सहमति दी
उन्होंने केन्द्रीय सडक निधि सीआरआईएफ से जनप्रतिनिधियों के प्रस्तावों पर 700 करोड़ रूपए के कार्यों के लिए सहमति प्रदान की। प्रस्तावों को मंजूरी देकर आवश्यक धनराशि भी प्रदान की जाएगी। मध्यप्रदेश में हस्तशिल्प विकास और पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं। आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के निर्माण के लिए उनका मंत्रालय अधिकतम सहयोग प्रदान करेगा। अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार मिले और वे प्रदेश के विकास में सहभागी बनें। इसके लिए मध्यप्रदेश के प्रोजेक्ट मंजूर करने में विलंब नहीं होगा। गडकरी ने कहा कि आज जिन मार्गों का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है।

10 हजार करोड़ के पाँच नए मार्गों के लिए मंजूरी
केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने वर्ष 2020.21 के लिए 10 हजार करोड़ लागत के पांच नए मार्गों की स्वीकृति प्रदान की। इनमें राष्ट्रीय मार्ग उज्जैन-झालावाड़ 132 कि.मी, सागरटोला-कबीर चबूतरा 45 कि.मी, बुदनी-रहेटी-नसरुल्लागंज 43 कि.मी. शामिल है। इन्दौर-सनावद-बारेगांव-136 कि.मी. और बोरगांव-बुरहानपुर-अकोला-174 कि.मी. शामिल हैं। गडकरी ने कहा कि मध्यप्रदेश में सडक निर्माण कार्यों की कुछ डीपीआर तैयार की जा रही है। जिन्हें शीघ्र ही मंजूरी मिलेगी। केन्द्रीय सडक एवं बुनियादी ढाँचा निधि सीआरआईएफ के 5325 करोड़ के 97 कार्य स्वीकृत किए गए हैं। इसके साथ ही अंतर्राज्यीय जुड़ाव एवं आर्थिक महत्व यआईएससी एण्ड ईआई के अंतर्गत 30 करोड़ के कार्यों को स्वीकृति दी गई है। मध्यप्रदेश को 2855 करोड़ की राशि सीआरआईएफ में प्रदान की गई है। गडकरी ने कहा कि मध्यप्रदेश में 13 हजार 248 किमी लंबाई एनएच की सडकों की है। यह मध्यप्रदेश में निरंतर बढ़ी है।

परियोजनाएँ जिनका शिलान्यास हुआ
केन्द्रीय सडक़ परिवहन और राजमार्ग एवं सूक्ष्म, लघु और मध्यम-उद्यम मंत्री श्री नितिन गडकरी ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के साथ आज जिन योजनाओं का शिलान्यास किया है, वे इस प्रकार हैं –
1. हरदा-बैतूल चार लेन मार्ग का चौड़ीकरण (चिचोली-बैतूल) लागत 620 करोड़, एनएच-47, लम्बाई 40 किलोमीटर।
2. कटनी बायपास चार लेन चौड़ीकरण – लागत 194, एनएच -30, लम्बाई 20 किलोमीटर।
3. हरदा-बैतूल चार लेन चौड़ीकरण (हरदा टेमगांव) – लागत 555 करोड़, एनएच-47, लम्बाई 30 किलोमीटर।
4. इन्दौर-हरदा- चार लेन चौड़ीकरण (ननासा-पिडगांव)- लागत 867 करोड़, एनएच-47, लम्बाई-47 किलोमीटर।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: