बीईओ के औचक निरीक्षण, एक दिन का वेतन कटेगा

इटारसी। विकासखंड शिक्षा अधिकारी केसला आशा मौर्य ने मंगलवार को ब्लाक के स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। बीईओ को स्कूलों में भारी लापरवाही मिली। कहीं शिक्षक गैरहाजिर मिले तो कहीं स्कूलों में ताले ही मिले। बीईओ श्रीमती मौर्य ने लापरवाह शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी करने और एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिये हैं।
मंगलवार को जब बीईओ आशा मौर्य दोपहर में प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला बिछुआ पहुंची तो यहां पदस्थ छह शिक्षक एवं एक अतिथि शिक्षक ड्यूटी पर नहीं मिले और दोनों ही स्कूलों में ताले पड़े हुए थे। शिक्षकों की इस लापरवाही पर सभी शिक्षकों को शोकाज नोटिस देकर एक दिन का वेतन काटने की तैयारी शुरू हो गई है।
उल्लेखनीय है कि शीतलहर को देखते हुए शासन ने स्कूलों में बच्चों को अवकाश दिया था, लेकिन सभी शिक्षकों को स्कूल पहुंचकर काम करने के निर्देश थे। मंगलवार को बीईओ मौर्य ने मरोड़ा हाईस्कूल, गजपुर हाईस्कूल, सनखेड़ा हाईस्कूल, सोमलवाड़ा हाईस्कूल के साथ बिछुआ के प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय का दौरा किया। बिछुआ के दोनों स्कूलों में ताला पड़ा था। प्रायमरी शिक्षक खोप सिंह कुबरे, रंजना ब्रह्मणे, प्राथमिक स्कूल के शिक्षक आईएल मीणा, घनश्याम मीणा, इरपाचे के साथ एक महिला शिक्षक और अतिथि शिक्षक स्कूल से गायब थे।

इनका कहना है…!
हमने कुछ स्कूलों का निरीक्षण किया है और इस दौरान ग्राम बिछुआ के दो स्कूलों में ताले मिले। यहां पदस्थ छह शिक्षकों को शोकाज नोटिस देकर एक दिन का वेतन काटा जाएगा। पिछले साल शराब पीकर आए दो शिक्षक निलंबित हो गए हैं। लगातार स्कूलों की निगरानी की जाएगी, लापरवाही करने वाले शिक्षकों पर कड़ी कार्रवाई होगी।
आशा मौर्य, बीईओ केसला

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: