लालच नरवाई के साथ मिट्टी के मित्रों को भी जला देता है

लालच नरवाई के साथ मिट्टी के मित्रों को भी जला देता है

– नरवाई नहीं जलाना है उपयुक्त कार्ययोजना बनाना है
– नरवाई जलाकर सूक्ष्म जीवों व ग्राम सुरक्षा को न डालें जोखिम
में
– अब नर्मदापुरम कहेगा नरवाई जलाने को न
– कलेक्टर के मार्गदर्शन में नरवाई न जलाने का जागरूकता कार्यक्रम
इटारसी। आने वाले माह में फसल तैयार होते ही ग्रीष्मकालीन फसल के लिये जल्दबाजी कई मायनों में नुकसानदायक सिद्ध हो सकती है।

नरवाई के निपटारे के लिये उसे आग के हवाले कर देना वायु प्रदूषण तो करता ही है फसलमित्र सूक्ष्मजीवों को नुकसान पहुंचाने के साथ मानव और सम्पत्ति सुरक्षा के लिये भी जोखिम भरा कदम होता है। ये बातें नेशनल अवॉर्ड (National Award) प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू (Sarika Gharu) ने होशंगाबाद कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) एवं जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम (CEO Manoj Sariam) के मार्गदर्शन में आरंभ किये गये जागरूकता अभियान में कही।
सारिका ने गीतों के माध्यम से कृषकों एवं उनसे जुड़े व्यक्तियों को संदेश देते हुये कहा कि लालच में आकर खेतों में आग लगाने से वायु प्रदूषित होती है। आगों की लपटों में सूक्ष्म जीव नष्ट हो जाते हैं । इस तरह का संदेश देने सारिका ने गीत भी जारी किया।सारिका ने कहा कि समय रहते उपयुक्त विधि से इनका निपटान करके फसल लेने की कार्ययोजना अभी से तैयार करने की आवश्यकता है। इस वर्ष से नमर्दापुरम में नरवाई न जले इसके लिये सभी को प्रयास करने होंगे।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!