छत्रपति शिवाजी और गुरु गोलवलकर की जयंती मनायी

छत्रपति शिवाजी और गुरु गोलवलकर की जयंती मनायी

इटारसी। हिंदू जागरण मंच नर्मदापुर (Hindu Jagran Manch Narmadapur) ने छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक माधव सदाशिवराव गोलवलकर (Madhav Sadashivrao Golwalkar) गुरुजी की जयंती मनाई।

विभाग संयोजक केके तिवारी (KK Tiwari) ने बताया कि 19 फरवरी को 1906 में जन्मे गोलवलकर ने 21 जून 1940 को आरएसएस (RSS) के सर संघचालक की जिम्मेदारी संभाली। गोलवलकर आरएसएस के न सिर्फ दूसरे महागुरु थे बल्कि उन्होंने राष्ट्रवादी हिंदुत्व को एक नई ऊंचाई तक पहुंचाया।
हिंदू मराठा साम्राज्य के संस्थापक वीर छत्रपति शिवाजी की जयंती आज है। 19 फरवरी 1630 में शिवनेरी दुर्ग में शिवाजी का जन्म हुआ था। वे एक वीर, कुशल एवं चतुर शासक तथा छापामार युद्ध की कला में पारंगत थे। उनकी सूझबूझ और कुशल रणनीति का मुगल भी लोहा मानते थे। शिवाजी ने अपने इन्हीं गुणों के दम पर हिंदू मराठा साम्राज्य की नींव रखी थी।
कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष प्रमोद पुरविया (Pramod Purvia), जिला प्रमुख बेटी बचाओ श्रीकांत रावत (Shrikant Rawat), जिला मंत्री विक्रम सिंह ठाकुर (Vikram Singh Thakur), भूमि संरक्षण जिला प्रमुख सुमन सिंह (Suman Singh), विनोद सरयाम (Vinod Sarayam), ओझा बस्ती के लोग सम्मिलित हुए। ओझा बस्ती में इन दोनों महापुरुषों की जयंती मनाने का उद्देश्य रहा कि इस बस्ती के लोग भी इन दोनों राष्ट्र भक्तों की राष्ट्र भक्ति से प्रेरणा लेकर देश धर्म के लिए अपना योगदान दे सकें।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!