ट्रेनों में पका खाना बहाल, अब फिर से मिलेगा भोजन

ट्रेनों में पका खाना बहाल, अब फिर से मिलेगा भोजन

– 80 फीसद ट्रेनों में पका खाना पहले ही बहाल कर दिया है
– 100 प्रतिशत बहाली 14 फरवरी, 2022 तक की जानी है
– ट्रेनों में मिलेंगे स्वास्थ्यवर्धक, शुद्ध-सात्विक भोजन
इटारसी/भोपाल। भारतीय रेलवे खान-पान और पर्यटन निगम लिमिटेड (irctc) रेल यात्रियों की आवश्यकताओं और देश भर में कोविड लॉकडाउन (covid lockdown) प्रतिबंधों में ढील के साथ ट्रेनों में पके हुए भोजन सेवाओं को पुन: शुरू करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।रेलवे बोर्ड (Railway Board) से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार पके हुए भोजन की बहाली पूरी सावधानियों के साथ यात्रियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए की गई है। इस तरह की सेवाएं लगभग 428 ट्रेनों में पके हुए भोजन के रूप में बहाल की जा चुकी हैं। कोरोना (Corona) संक्रमण के घटते प्रभाव को देखते हुए 21 दिसंबर से ही करीब 30 फीसद और 22 जनवरी तक 80 फीसद पके हुए भोजन की सेवा की बहाली प्रारंभ कर दी गई थी। बाकी शेष 20 प्रतिशत 14 फरवरी 2022 तक बहाल कर दिया जाएगा। प्रीमियम ट्रेनों (Premium Trains), राजधानी (Rajdhani), शताब्दी (Shatabdi), दुरंतो (Duronto) में पका हुआ भोजन पहले ही 21 दिसंबर को बहाल कर दिया गया था।
23 मार्च 2019 को कोरोना वायरस महामारी के कारण सुरक्षा उपायों को देखते हुए खान-पान सेवाओं को निलंबित कर दिया था। देश में कोविड के दरों में सकारात्मक गिरावट के साथ आरटीई भोजन 05 अगस्त 2020, अगस्त के महीने से ट्रेनों में भोजन-सेवा प्रारंभ की गई थी। यह सुविधा सभी यात्रियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए सहजता से यात्रियों तक निरंतर पहुंचाया जा रहा है। इस महामारी को देखते हुए खानपान की सुविधाओं में उच्च मात्रा में स्वास्थ्यवर्धक सामग्रियों को शामिल किया है, जिससे यात्रियों को पौष्टिक आहार मिल सके और वह सुरक्षित महसूस करें।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!