शनिदेव के भजनों पर झूमे श्रद्धालु, झांकियों ने मन मोहा

शनिदेव के भजनों पर झूमे श्रद्धालु, झांकियों ने मन मोहा

इटारसी। न्याय के देवता भगवान शनि देव (Lord Shani Dev) के जनमोत्सव की पूर्व संध्या पर पुरानी इटारसी रामलीला मैदान (Old Itarsi Ramlila Maidan) पर एक शाम न्यायदेवता के नाम का आयोजन किया गया।
सर्वप्रथम भगवान शनि जी आरती की गई। पूजन के बाद मंच पर सजे शनिदेव एवं मां दुर्गा के दरबार के समक्ष मां के बेटे जागरण समिति (Maa ke Bete Jagran Samiti) के कलाकारों ने शनिदेव के भजनों की प्रस्तुति दी। मां के बेटे जागरण समिति के गायक आलोक शुक्ला ने गणेश वंदना से भजन संध्या का आरंभ किया। उज्जैन (Ujjain) के राजा..भजन की प्रस्तुति दी। भजन गायिका श्रीमती वीणा ठाकुर ने कोई तेल शनि को चढ़ा दो, मैं दुखिया नीर बहाता, शनि जी मेरी झोली भर दो की प्रस्तुति दी।


कार्यक्रम में विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा (MLA Dr. Sitasaran Sharma) ने मंच पर देव दरबार का पूजन अर्चन कर शनिदेव से सभी के कल्याण की प्रार्थना कर आशीर्वाद लिया। सत्यम टोरिया ने पथ राखों मेरी मां गाकर माता शारदा (Mother Sharda) का गुणगान किया। कार्यक्रम संचालक भूषण पंडागरे ने अपनी मधुर आवाज में भजन सुनाए। जबलपुर (Jabalpur) के झांकी कलाकार आकाश और अंशुल ने मनोहारी झांकियों का प्रदर्शन किया। सजीव झांकियों में शनि जी की कुदृष्टि के कारण एक दुखी परिवार किस तरह शनिदेव से क्षमा याचना करता है, इसका सजीव चित्रण प्रस्तुत किया गया।
गणेश जी (Ganesh ji,), श्री कृष्ण (Shri Krishna), रामभक्त हनुमान जी (Hanuman ji), की झांकियों के माध्यम से सभी भक्तों का मन मोह लिया। इस अवसर पर अन्य कलाकार पवन शुक्ला, शीतल चौधरी, शुभम अवस्थी, दीपक पवार, महेंद्र कनक, नीलेश मालवीय, गोलू महाराज, सूरज भाई, मोहित मेहरा, देबू आदि ने भजनों पर संगत दी। इस आयोजन में जो भी धन राशि एकत्र हुई उसे मां के बेटे परिवार ने एक परिवार को प्रदान की है।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!