जीवन के हर क्षेत्र में अभियांत्रिकी है, इंजीनियर्स गुणवत्ता में सुधार करें

जीवन के हर क्षेत्र में अभियांत्रिकी है, इंजीनियर्स गुणवत्ता में सुधार करें

इंजीनियर डे के कार्यक्रम में विधायक डॉ. शर्मा ने इंजीनियर्स से कहा

इटारसी। जीवन के हर क्षेत्र में अभियांत्रिकी है, हम इसका पॉजिटिविटी से उपयोग करेंगे तो उन्नति की ओर जाएंगे। सुबह उठने से लेकर रात में सोने तक हमें इंजीनियर्स द्वारा बनायी चीजों के साथ गुजरना होता है। यह बात मप्र विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और वर्तमान विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा (MLA Dr. Sitasaran Sharma) ने कही। वे ईष्वर रेस्टॉरेंट के सभागार में एसोसिएशन ऑफ सिविल इंजीनियर इटारसी चैप्टर द्वारा आज इंजीनियर डे पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में मप्र तैराकी संघ के अध्यक्ष पीयूष शर्मा (Piyush Sharma, president of MP Swimming Association), मप्र प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की डीई पूनम तुमराम (DE Poonam Tumram), रेलवे के सीनियर इंजीनियर सचिन शर्मा (Senior Engineer Sachin Sharma), मुख्य नगर पालिका अधिकारी हेमेश्वरी पटले (Chief Municipal Officer Hemeshwari Patel) सहित संगठन के अनेक सदस्य, नगर पालिका के इंजीनियर्स भी उपस्थित थे।
संबोधित करते हुए विधायक डॉ.शर्मा ने इंजीनियर्स का इस ओर ध्यान आकर्षित किया कि प्रदेश के इंजीनियर्स अपने काम की गुणवत्ता में और इजाफा करें, क्योंकि प्रदेश से बाहर की कंपनियों में प्रदेश के इंजीनियर्स को इतना स्थान नहीं मिल पा रहा है जितना अन्य प्रदेशों के इंजीनियर्स को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि इंजीनियर्स अपने अन्य प्लेटफार्म पर इस बात को रखकर चिंतन करें। उन्होंने कहा कि इंजीनियर्स को और अधिक दक्षता दिखानी होगी। उन्होंने सिविल इंजीनियर्स से निवेदन किया कि वे जो भी मकान या भवन बनायें, उसमें कम से कम दो पेड़ के लिए स्थान अवष्य छोड़ें और हर भवन और मकान में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम अवश्य लगवायें।
मप्र तैराकी संघ के अध्यक्ष पीयूष शर्मा (President Piyush Sharma) ने कहा कि इंजीनियर्स ही हैं जो डेवलपमेंट का काम करते हैं। समाज की संरचना ही ऐसी है कि हमें एकदूसरे की जरूरत होती है। हमें डॉक्टर्स, जनप्रतिनिधि, और ऐसे ही अन्य लोगों की कभी न कभी जरूरत होती है। लेकिन, इंजीनियर ही ऐसे हैं जिनकी जरूरत हर वक्त होती है, क्योंकि वे विकास का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि भले ही इंजीनियरिंग कालेजों में सीटें खाली हों, लेकिन आज भी अच्छे इंजीनियर्स की कमी महसूस की जाती है। मुख्य नगर पालिका अधिकारी हेमेश्वरी पटले ने कहा कि हम सब जो विकास के काम करते हैं, कहीं न कहीं इंजीनियर होते हैं। उन्हांेने सभी को इंजीनियर डे की बधाई दी।
डीई पूनम तुमराम ने डॉ. मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया को याद करते हुए कहा कि आज के समय में हर व्यक्ति इंजीनियर है। जिन लोगों ने पहले कई बड़े-बड़े काम किये हैं, उनमें सभी डिग्री या डिप्लोमाधारी नहीं थे। यदि आप बल्व लगा लेते हैं, गैस जला लेते हैं तो आप भी इंजीनियर हैं। इंजीनियरिंग डिग्री से नहीं बल्कि कार्यप्रणाली से आती है। नगर पालिका की सहायक यंत्री मीनाक्षी चौधरी ने कहा कि हम सुबह से शाम तक जो भी काम करते हैं, सबमें इंजीनियरिंग होती है। रेलवे के सभागीय इंजीनियर सचिन शर्मा ने कहा कि हम सबमें कहीं न कहीं इंजीनियर है, हम उसे कितना प्रोत्साहन देते हैं, यह हम पर निर्भर करता है।
कार्यक्रम का संचालन करते हुए इंजीनियर भरत वर्मा ने उपस्थित सभी लोगों से आह्वान किया है कि सरकार कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीनेशन का काम एक अभियान की तरह कर रही है। प्रथम डोज लगभग शत प्रतिशत हो गया है, सैकंड डोज का अभियान चल रहा है, जिन्होंने अब तक सैकंड डोज नहीं लगवाया है, वे सैकंड डोज लगवा लें। इस अवसर पर संगठन के सदस्यों के अलावा वरिष्ठ भाजपा नेता जगदीश मालवीय, कल्पेश अग्रवाल, सांसद प्रतिनिधि राजा तिवारी, राकेष जाधव, देवेन्द्र पटेल, सौरभ मेहरा, बेअंत सिंह बंजारा, शिरीष कुमार, सत्यम अग्रवाल, मनीष ठाकुर, कुलदीप रघुवंशी सहित अनेक गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: