निशुल्क थैरेपी सेंटर के सदस्यों को सम्मानित किया

निशुल्क थैरेपी सेंटर के सदस्यों को सम्मानित किया

इटारसी। साउथ कोरिया कंपनी के द्वारा निर्मित लैजर मसाज मशीन से संचालित निशुल्क थेरेपी सेंटर के प्रबंधकों एवं सदस्यों के सम्मान का कार्यक्रम शिक्षक कल्याण संगठन द्वारा मुस्कान संस्था के सेंटर पर आयोजित किया गया।
कार्यक्रम में पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी बीके पटेल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए। अध्यक्षता सेंटर के प्रबंधक गोपाल पांडे ने की। सहायक प्रबंधक दीपा पांडे भी मंचासीन हुई। भगवान गणपति की मूर्ति पूजन एवं दीप प्रज्वलन के साथ सेवा सम्मान का कार्यक्रम आरंभ हुआ। स्वागत उद्बोधन संगठन के जिलाध्यक्ष सुरेश चिमानिया ने दिया। सत्येन्द्र तिवारी ने मंच की गतिविधियों की जानकारी दी। शिक्षक राम आशीष पांडे ने प्रेरक गीत जीना तो है, उसी का जिसने यह राज जाना की प्रस्तुति दी।
थेरेपी सेंटर के प्रबंधक गोपाल पांडे ने एच-1 बेड की विशेषता बताते हुए उससे थैरेपी लेने वालों को होने वाले फायदे बताये एवं कहा कि मसाज मशीन से निकलने वाली एफआईआर किरण मानव शरीर के 7 सेंटीमीटर अंदर जाकर नसों को खोलने एवं हड्डियों वह मांस पेशियों को लचीला बनाने और खून को साफ करके शुगर, बीपी, जोड़ों का दर्द, कमर दर्द, साइनस की बीमारी, हार्ट ब्लॉकेज, सांस की बीमारी आदि अनेक बीमारियों को जड़ से खत्म करने में मदद करती है जिसका सेंटर पर आने वाले मरीज प्रतिदिन निशुल्क लाभ ले रहे हैं।
गायिका अनिता राठौर ने सुन्दर गीत की प्रस्तुति से वातावरण जीवंत हो उठा। मुख्य अतिथि बीके पटेल ने कहा कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन वास करता है, स्वस्थ शरीर के माध्यम से हम परिवार एवं समाज की सच्ची सेवा कर सकते हैं। यहां सेवा देने वाली बच्चियों की सेवा भावनाओं को मैं सलाम करता हूं जो हंसकर आने वाले मरीज का स्वागत कर उनकी आधी बीमारी को दूर कर देती है। सेंटर पर प्रतिदिन उपस्थित हो थैरेपी का लाभ ले रहे पूर्व प्राचार्य जीपी मालवीय, पीएस तोमर, जयप्रकाश अग्रवाल, शशि कला दुबे आदि अनेकों ने अपने अनुभव सुनाते हुए कहा कि यहां का सकारात्मक माहौल एवं नारे रोज-रोज आना है, थेरेपी लेकर जाना है,कर भला तो हो भला, जीवन दान महादान, एक सदस्य की मदद करेंगे, 1 दिन की छुट्टी 3 दिन का नुकसान, शरीर में नवीन ऊर्जा का संचार करते हैं।
कार्यक्रम में मनीष ठाकुर, नितिन वर्मा, साधना सराफ, मीनू चौहान, प्रिंसी चौरे, शिवानी सराठे, भारती यादव, उर्मिला आरवे, श्रद्धा मेहरा का सम्मान किया गया। संचालन राजकुमार दुबे ने किया एवं आभार राजेंद्र दुबे ने माना। इस अवसर पर रामचरण नामदेव, सुनील दुबे, कमोद दुबे, उषा कश्यप, आरती राठौर, अखिलेश दुबे, सत्येंद्र तिवारी, सुरेंद्र सिंह तोमर का सराहनीय योगदान रहा।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!