पिछले चौबीस घंटे में इस कस्बे में हुई सर्वाधिक वर्षा, सीजन में पचमढ़ी आगे

पिछले चौबीस घंटे में इस कस्बे में हुई सर्वाधिक वर्षा, सीजन में पचमढ़ी आगे

इटारसी। बारिश के मामले में सबसे अधिक पानी हिल स्टेशन (Hill Station) और सतपुड़ा की रानी पचमढ़ी (Pachmarhi) में बरसता है। लेकिन पिछले चौबीस घंटे में वर्षा का जो आलम रहा है, उसमें पचमढ़ी पिछड़ गयी है। बीते 24 घंटे में सर्वाधिक वर्षा एक कस्बे में हुई है। इसके बाद नर्मदापुरम (Narmadapuram) जिले के अन्य शहरों में वर्षा दर्ज की गई। पिछले चौबीस घंटे के वर्षा के आंकड़े देखें तो हर तहसील में पानी वर्षा है। बीते चौबीस घंटे में न सिर्फ वर्षा हुई बल्कि तेज बिजली चमकी और गिरी भी। बिजली गिरने से इटारसी (Itarsi) क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था सर्वाधिक प्रभावित हुई है।
कार्यालय कलेक्टर (भू अभिलेख), जिला नर्मदापुरम से प्राप्त दैनिक वर्षा की जानकारी के अनुसार जिले में पिछले चौबीस घंटे में सबसे अधिक 42 मिलीमीटर वर्षा माखननगर (Makhannagar) में दर्ज की गई है। माखननगर के बाद सबसे अधिक वर्षा पिपरिया (Pipariya) 23.8 मिमी, नर्मदापुरम 22.8, इटारसी 20.4, पचमढ़ी 16.6, डोलरिया (Dolaria) 11.2, सोहागपुर 10.6, बनखेड़ी 8.4 और सबसे कम सिवनी मालवा में 3.5 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।
इस मानसून में अब तक सबसे अधिक वर्षा वाला स्थान पचमढ़ी है। यहां अब तक 76.2 मिमी वर्षा हुई है। दूसरे स्थान पर माखननगर 51 मिमी, नर्मदापुरम 42.8, सोहागपुर (Sohagpur) 42 मिमी, पिपरिया 38 मिमी, इटारसी 35.2 मिमी, डोलरिया 23.5 मिमी, बनखेड़ी 14.8 और सिवनी मालवा (Seoni Malwa) 4 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। इस तरह से जिले में अब तक प्रगामी योग 327.5 मिमी है। नदियों और बांधों के जलस्तर को देखें तो नर्मदा (Narmada) के सेठानी घाट (Sethani Ghat) पर जल स्तर 933 फीट है जबकि अधिकतम जलस्तर 967 फीट है। तवा बांध (Tawa Dam) का जलस्तर वर्तमान में 1106 फीट है जबकि यहां 1166 अधिकतम जलस्तर है। पिछले चौबीस घंटे में जलस्तर में 0.10 फीट की वृद्धि दर्ज की गई है।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!