मिल्क प्रोडक्शन बढ़ाएं , पशुपालकों को कराएं प्रक्षेत्र का भ्रमण

मिल्क प्रोडक्शन बढ़ाएं , पशुपालकों को कराएं प्रक्षेत्र का भ्रमण

– कलेक्टर (Collector) श्री सिंह ने किया कीरतपुर (Kiratpur) स्थित पशु प्रजनन प्रक्षेत्र का निरीक्षण
इटारसी। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) ने आज यहां कीरतपुर स्थित मध्य प्रदेश राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम अंतर्गत संचालित पशु प्रजनन प्रक्षेत्र का भ्रमण कर यहां पशुओं के भरण पोषण, दूध उत्पादन एवं संचालित गतिविधियों का जायजा लिया।

कलेक्टर श्री सिंह श्री सिंह ने पशु प्रजनन प्रक्षेत्र प्रबंधन को यहां मिल्क प्रोडक्शन (Milk Production) बढ़ाने तथा कार्ययोजना बनाकर जिले के पशुपालकों को समूहों में भ्रमण कराकर उन्हें पशुओं के रखरखाव के संबंध में जानकारी देने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने यहां गाय एवं भैंस पशु प्रजनन क्षेत्र, नेशनल कामधेनू ब्रीडिंग सेंटर (National Kamdhenu Breeding Centre) एवं पशु आहार संयंत्र का निरीक्षण किया।


प्रबंधक पशु आहार संयंत्र डॉक्टर सुनील चौधरी (Dr Sunil Chaudhary) ने बताया कि इस पशु प्रजनन क्षेत्र में कुल 741 पशु हैं, जिनमें से 181 दुधारू हैं। क्षेत्र की औसत दुग्ध उत्पादन क्षमता 850 लीटर प्रतिदिन है जिससे क्षेत्र के केंद्रीय प्रूफ संस्थान (Central Proof Institute), ऑर्डिनेंस फैक्ट्री (Ordnance Factory) एवं स्थानीय लोगों को वितरित किया जाता है। शेष दूध को सांची डेयरी (Sanchi Dairy) को भी भेजा जाता है। कलेक्टर श्री सिंह ने पशु आहार संयंत्र का निरीक्षण कर यहां कैटल फीड (Cattle Feed) बनाने की प्रक्रिया की जानकारी ली। उन्होंने प्रबंधन से कैटल फीड की बाजार कीमत एवं इसकी कीमत में आने वाले उतार-चढ़ाव के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की। प्रबंधक पशु आहार संयंत्र ने बताया कि इस पशु आहार संयंत्र से कैटल फीड 15 जिलों की गोशालाओं, शासकीय डेयरी फॉर्म (Government Dairy Farm), मदर डेयरी (Mother Dairy), दिनशा डेयरी (Dinsha Dairy) को सप्लाई किया जाता है।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!