नौ वर्ष बाद आया फैसला: ट्रक चालक को 2 वर्ष की सजा

नौ वर्ष बाद आया फैसला: ट्रक चालक को 2 वर्ष की सजा

इटारसी। कोर्ट ने नेशनल हाईवे पर बिजली आफिस के सामने हुई एक दुर्घटना के मामले में आरोपी ट्रक ड्रायवर को 9 वर्ष बाद दो वर्ष की सजा सुनायी है। प्रकरण विचारण के दौरान आरोपी जमानत पर था।
अपर लोक अभियोजक राजीव शुक्ला ने बताया कि द्वितीय सेशन न्यायाधीश सुश्री सविता जडिय़ा ने आरोपी अपीलाथी मुन्ना उर्फ महेश शर्मा पिता ओमप्रकाश शर्मा, उम्र 32 वर्ष निवासी पुरानी इटारसी को भारतीय दंड विधान की धारा 304 ए के आरोप में 2 वर्ष के सश्रम कारावास की सजा एवं 500 रुपए के अर्थदंड से दंडित करने तथा अर्थदंड अदा न करने पर 2 माह का अतिरिक्त सश्रम कारावास भुगताने की दंड आज्ञा की पुष्टि करते हुए आरोपी को सजा वारंट से जिला जेल होशंगाबाद भेजे जाने का अपीलीय आदेश पारित किया है। इस प्रकरण की पैरवी करने वाले अपर लोक अभियोजक राजीव शुक्ला ने बताया कि निसार अहमद 6 अप्रैल 2009 को 4:35 बजे एमपीईबी गेट के पास बिंदु की चाय की दुकान पर चाय पी रहा था। तभी राजेश पटेल अपनी मोटरसाइकिल के पीछे हितेश तिवारी को बैठाकर होशंगाबाद तरफ जा रहे थे ट्रक क्रमांक एमपी 09 के ए 0597 के चालक महेश शर्मा ने तेज गति से लापरवाही से ट्रक चलाते हुए राजेश पटेल की मोटरसाइकिल में पीछे से टक्कर मार दी थी जिससे राजेश पटेल एवं हितेश मोटरसाइकिल से गिर गए थे और उन्हें चोट लगी थी। राजेश पटेल की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई थी तथा हितेश तिवारी घायल हो गया था। इस प्रकरण में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट इटारसी के द्वारा संपूर्ण विचरण करते हुए 26 अगस्त 2014 को दोषी पाते हुए धारा 304 ए में दो अकाउंट में 2 वर्ष के सश्रम कारावास एवं 500 रुपए के अर्थदंड से दंडित किए जाने का तथा अर्थदंड अदा नहीं करने पर 2 माह का अतिरिक्त सश्रम कारावास और भोगने का दंड आदेश पारित किया था जिसके विरोध मं ेआरोपी के द्वारा अपर सत्र न्यायालय इटारसी में अपील प्रस्तुत की गई थी जिसका विचारण करते हुए अपर सत्र न्यायाधीश सुश्री सविता जडिया ने मध्य प्रदेश राज्य की ओर से अपर लोक अभियोजक राजीव शुक्ला के द्वारा प्रस्तुत तर्कों से सहमत होते हुए आरोपी की उक्त अपील को निरस्त कर दिया है तथा अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट इटारसी के आदेश 26 अगस्त 2014 की पुष्टि करते हुए आरोपी की ओर से पेश की गई अपील निरस्त करते हुए आरोपी को सजा वारंट से जिला जेल होशंगाबाद भेजे जाने एवं सजा भुगताए जाने का आदेश पारित किया है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: