पटेरिया के निधन पर अनेक संगठनों ने जताया शोक

पटेरिया के निधन पर अनेक संगठनों ने जताया शोक

इटारसी। मध्यप्रदेश के ख्याति प्राप्त साहित्यकार इटारसी (Itarsi) में जन्मे मनोहर पटेरिया मधुर (Manohar Pateria Madhur) अब हमारे बीच में नहीं रहे। उनकी साहित्य प्रतिभा के अनेक लोग कायल रहे हैं। नर्मदापुरम (Narmadapuram) जिले में उनके निधन के बाद शोक छा गया। अनेक संगठनों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है।

श्री पटेरिया आकाशवाणी भोपाल (Akashvani Bhopal) में लंबे समय तक वरिष्ठ प्रसारण अधिकारी रहे। उसके बाद भी वह निरंतर साहित्य जगत से जुड़े रहे। होशंगाबाद जिला पत्रकार संघ उनके जीवित रहते हुए उनका सम्मान कर चुका है। उनका पोट्रेट (Portrait) साहित्यकार सुधांशु मिश्रा (Sudhanshu Mishra) ने बनाया था। जीते जी सभी विभूतियों की फोटो पत्रकार भवन में लगाई गई थी।
स्वर्गीय श्री पटेरिया, पगारे परिवार के पारिवारिक सदस्य थे। साल में कई बार फोन पर उनसे बातचीत होती रहती थी एवं वह इटारसी के हालचाल जाना करते थे। उनके निधन पर विभिन्न सामाजिक और साहित्यिक संस्थाओं ने उनको श्रद्धांजलि दी है। सामाजिक उत्तरदायित्व का निर्वहन करने वाले प्रमोद पगारे ने कहा कि ना केवल हमने अपने पारिवारिक सदस्य को खोया है अपितु मध्य प्रदेश के साहित्य जगत से एक बहुमूल्य रत्न खो दिया है।
श्री पटेरिया के देहावसान पर अनेक साहित्यिक, कला मंच और लेखकों, साहित्यकारों ने शोक व्यक्त किया। राष्ट्रीय कला एवं काव्य मंच, मप्र जन चेतना लेखक संघ, मानसरोवर साहित्य समिति, पाठक मंच, बातचीत, युवा पत्र लेखक मंच, विजय भारतीय संस्कृति संस्थान, संकल्प, समर समागम, साहित्य साधना काव्य मंच, तिरंगा, युवा प्रवर्तक विचार मंच, विद्या भारती पूर्व छात्र परिषद, जन चेतना मंच आदि साहित्यिक, सांस्कृतिक, सामाजिक व वैचारिक संस्थाओं ने शोक व्यक्त करते हुए उन्हें अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की है।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!