अब हवाई जहाज से तीर्थ दर्शन कराएगी मप्र सरकार

अब हवाई जहाज से तीर्थ दर्शन कराएगी मप्र सरकार

पचमढ़ी/इटारसी। मप्र (MP) की शिवराज सरकार (Shivraj Sarkar) ने तीर्थदर्शन योजना (Pilgrim Scheme) पुन: प्रारंभ करने का फैसला लिया है। पचमढ़ी (Pachmarhi) में आयोजित कैबिनेट चिंतन (Cabinet Contemplation) शिविर में तीर्थदर्शन योजना में श्रद्धालुओं को हवाई यात्रा (Air Travel) का भी प्रावधान किया है।शिवराज कैबिनेट की बैठक शुरु होने से ठीक पहले सीएम ने ट्वीट के जरिए जानकारी दी है कि यहां गहराई से चिंतन मनन करेंगे और निश्चित तौर पर इस चिंतन-मंथन से जो अमृत निकलेगा, वह जनता के बीच बांटा जाएगा। इस अमृत का उपयोग शिवराज ने जनता के कल्याण और प्रदेश के विकास के लिए करने का भरोसा दिलाया। मुख्यमंत्री सहित मंत्रिमंडल के सदस्यों ने नीला गुलमोहर का पौध भी पचमढ़ी में रोपा।
मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में पचमढ़ी में आयोजित मंत्री परिषद की दो दिवसीय चिंतन बैठक में निर्णय लिया कि कोविड-19 के कारण बंद हुई मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना अप्रैल से पुन: प्रारंभ की जाएगी। सबसे पहले गंगा स्नान, काशी कॉरिडोर, संत रविदास, संत कबीरदास से जुड़े स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे। महत्वपूर्ण फैसला यह है कि तीर्थ दर्शन यात्रा के कई जगहों को एयर रूट से जोड़ा जाएगा। यानी यहां लोगों को हवाई यात्रा की सुविधा सरकार मुहैया कराएगी।
इसी तरह से सरकार कन्यादान योजना को एकीकृत करेगी और इसका संचालन एक विभाग करेगा। इसमें नव विवाहित दंपति को घरेलू उपयोग के सामान दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री समेत पूरी सरकार पचमढ़ी में 26 और 27 मार्च को मंथन कर रही है। इसमें योजनाओं, मिशनों के लिए मंत्रियों की कमेटी बनी है। मंत्री अपनी योजनाओं का सीएम शिवराज के सामने प्रजेंटेशन देने में जुटे हैं।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!