यूजीसी नेट, जेआरएफ प्रारूप और चुनौतियां विषय पर वेबिनार का आयोजन

यूजीसी नेट, जेआरएफ प्रारूप और चुनौतियां विषय पर वेबिनार का आयोजन

इटारसी। शासकीय महात्मा गांधी काॅलेज (Govt Mahatma Gandhi College) में आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ के तत्वावधान में यूजीसी नेट (UGC NET) जेआरएफ (JRF) प्रारूप और चुनौतियां विषय पर वेबिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ हुआ। आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ के समन्वयक डॉ. पवन अग्रवाल ने दो दिवसों में होने वाले व्याख्यानों की रूपरेखा को विस्तार से बताया। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ आर के तिवारी ने अपने स्वागत उद्बोधन में कहा कि इस वेबीनार का उद्देश्य विद्यार्थियों में प्रतिभा का विकास करना एवं छात्रों को प्रोत्साहित करना है। जिससे यूजीसी नेट जेआरएफ की तत्परता से तैयारी कर सकें। महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापक डॉ. मनीष ने नेट जेआर.एफ की योग्यता और नियमावली पर विस्तार से प्रकाश डाला एवं विषय की गंभीरता के मूलभूत तत्थ्यो को विद्यार्थियों के साथ साझा किया। अनिवार्य प्रथम प्रश्न पत्र में अपने विचार रखते हुए दिनेश कुमार सहायक प्राध्यापक भूगोल ने प्रश्न पत्र के पाठ्यक्रम तथा प्रश्नों के हल करने का तरीका बताया तथा प्रश्नों पर विस्तार से चर्चा की। मूल विषय हिंदी पर अपने विचार रखते हुए डॉ. संतोष अहिरवार ने कहा कि हिंदी विषय के छात्रों के सामने दो चुनौतियां प्रमुख है। हिंदी विषय का विशाल पाठ्यक्रम एवं विद्यार्थियों को अपने विषय के महासागरीय ज्ञान का ना हो ना हो पाना। इसके लिए विद्यार्थी को स्तरीय पुस्तकों का अध्ययन करना आवश्यक है, साथ ही साथ हिंदी विषय की कुछ महत्वपूर्ण किताब पढ़ने का सुझाव दिया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के वरिष्ठ प्राध्यापकों में डॉ. पी के पगारे, डॉ. ओपी शर्मा, डॉ. राकेश मेहता सहित 100 से अधिक छात्राएं मौजूद रही।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: