शहीद वनरक्षक के प्रथम शहादत दिवस पर पौधरोपण
Plantation of saplings on the first martyrdom day of martyr forest guard

शहीद वनरक्षक के प्रथम शहादत दिवस पर पौधरोपण

इटारसी। नगर के युवा शहीद वनरक्षक राज परीक्षित भट्ट की प्रथम पुण्यतिथि को शहादत दिवस के रूप में मनाते हुए इस युवा की स्मृति में जल सेवा, पौधरोपण, गरीब जन को भोजन सहित विविध प्रकार के सेवाभावी कार्यक्रम आयोजित किए।
इटारसी के इस लाडले सपूतका जन्म नगर के प्रथम शास्त्र आचार्य पंडित गुरु प्रसाद भट्ट के परिवार में 13 अप्रैल 1987 को हुआ था। उनके मन में बचपन से ही राष्ट्रप्रेम की भावना कूट-कूट कर भरी हुई थी जब वह वन विभाग में सेवा पर गए तब भी यही भावना उनके हृदय में समाहित थी अत: 6 मई 2021 को राज परीक्षित अपने कर्म स्थली मटकुली में जब सेवा कार्य कर रहे थे, तभी यहां के जंगल में लगी भीषण आग को बुझाते बुझाते वह वीरगति को प्राप्त हो गए। राज्य सरकार ने इस युवा वनरक्षक को मृत्यु के 4 माह पश्चात 11 सितंबर 2021 को राष्ट्रीय शहीद दिवस के अवसर पर शहीद का दर्जा प्रदान किया था और उनके परिजनों व उनकी पत्नी को सम्मानित करते हुए प्रशस्ति पत्र प्रदान किए थे।
राज परीक्षित के प्रथम शहादत दिवस के अवसर पर यह शांति धाम शमशान घाट में उनका सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हुआ था, वहां उनके परिजनों ने एवं मित्रों ने अनेक प्रकार के पौधे रोपित किए। इसके साथ ही नगर के सब्जी मंडी क्षेत्र में जल सेवा प्रकल्प की स्थापना की जहां वर्ष के 12 महीने आम जनों को पेयजल उपलब्ध होगा। इसके अलावा गरीब बच्चों की पालनहार संस्था मुस्कान में सभी निर्धन बालक बालिकाओं को भोजन कराया। नगर के विद्वानों ने स्वर्गीय राज परीक्षित की आत्मा शांति के लिए स्वस्तिवाचन करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!