शोभा यात्रा के बाद संस्कृत भाषा प्रबोधन वर्ग का समापन 

शोभा यात्रा के बाद संस्कृत भाषा प्रबोधन वर्ग का समापन 

इटारसी। संस्कृत भारती मध्यभारतप्रांत (Sanskrit Bharati Central India Province) द्वारा आयोजित आवासीय भाषा प्रबोधन वर्ग (Residential Language Enlightenment Class) का समापन कार्यक्रम संपन्न हुआ। कार्यक्रम के पूर्व संस्कृत शोभायात्रा सभी छात्रों एवं कार्यकर्ताओं द्वारा निकाली गई जिसमें इटारसी नगर (Itarsi Nagar) के नागरिक भी शामिल हुए । शोभा यात्रा का दृश्य देखते ही बनता था जिसमें नारे भी संस्कृत में ही लगाए जा रहे थे जैसे “अस्माकं भाषा संस्कृत भाषा, नगरे नगरे संस्कृत भाषा ” आदि । शोभा यात्रा का नगर के चौराहों पर पुष्प वर्षा से अभिनंदन भी किया गया । अनेक सामाजिक संगठनों के द्वारा पुष्प वर्षा की गई।

शोभायात्रा के उपरांत समापन कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सुश्री चंद्र प्रभा ठाकुर सेवानिवृत्त प्राचार्या ( डाइट पचमढ़ी) , विशिष्ट अतिथि के रूप में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक शिवशंकर तथा अध्यक्ष के रूप में डॉक्टर अतुल सेठा मौजूद रहे । मुख्य वक्ता के रूप में संस्कृत भारती मध्यभारत प्रांत के प्रांत संगठन मंत्री नीरज दीक्षित ने संस्कृत भाषा की वैज्ञानिकता तथा संस्कृत की आवश्यकता को प्रतिपादित किया। मुख्य अतिथि ने वेद मंत्रों की व्याख्या करते हुए उनकी वैज्ञानिकता को बताया तथा विशिष्ट अतिथि ने कहा कि आने वाला युग संस्कृत का युग है । हमें संस्कृत पढ़ कर आधुनिक बनने के लिए तैयार रहना चाहिए। डॉक्टर अतुल सेठा ने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि संस्कृत न केवल पुराणों और वेदों की भाषा है बल्कि यह जन भाषा के रूप में भी विकसित होना चाहिए । इस कार्यक्रम में संस्कृत भारती के नर्मदापुर जनपद के विभाग संयोजक संतोष व्यास का भी सानिध्य प्राप्त हुआ।
कार्यक्रम के अंत में संस्कृतभारती नर्मदापुर जनपद (Narmadapur District) के सहमंत्री सुधांशु शेखर मिश्र ने आगंतुकों का धन्यवाद ज्ञापन किया । कार्यक्रम का संचालन इटारसी नगर के संस्कृतभारती के नगर मंत्री अरुण कुमार दुबे ने किया । कल्याण मंत्र के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।
CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!