शिखर चंद जैन नहीं रहे, उनके योगदान को नगर याद रखेगा

शिखर चंद जैन नहीं रहे, उनके योगदान को नगर याद रखेगा

इटारसी। शहर के कुशल व्यापारी, मृदुभाषी एवं समाज के विकास में योगदान देने वाले नेमिनाथ दिगंबर जैन मंदिर (Neminath Digambar Jain Temple) सातवीं लाइन इटारसी (Itarsi) के अध्यक्ष शिखर चंद जैन (Shikhar Chand Jain) का 94 वर्ष की आयु में दुखद निधन हो गया।उनका जन्म 1 अगस्त 1928 को हुआ था। वह ग्राम भट्टी से अपने पूज्य पिता स्व. मन्नूलाल जैन (Late. Mannulal Jain) के साथ परिवार सहित इटारसी आए थे। तब से इटारसी उनका एवं वे इटारसी के हो गए थे। फर्म बालचंद मन्नूलाल जैन (Firm Balchand Mannulal Jain) पूरे नर्मदांंचल (Narmadanchal) में आयुर्वेदिक औषधि एवं किराने की दुकान के रूप में जानी जाती है। इस समय उनके परिवार की चौथी पीढ़ी व्यापार से जुड़ी है। इटारसी के महात्मा गांधी स्मृति महाविद्यालय (Mahatma Gandhi Memorial College) को शासकीय कराने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा। वे वरिष्ठ नागरिक मंच के संस्थापक भी रहे। समाज में न केवल दिगंबर जैन समाज अपितु सकल जैन समाज में उनको आदर के साथ देखा जाता था। इटारसी में महावीर जयंती के कवि सम्मेलन में स्व. राजधर जैन (Late. Rajdhar Jain) एवं शिखर चंद जैन, स्व महेश सिंघवी (Mahesh Singhvi) कटपीस वालों की टीम देश के श्रेष्ठ कवियों को आमंत्रित करती थी। बाद में मंचों पर कविता का स्तर गिरने पर इन तीनों ने अपने को आयोजन से दूर कर लिया था। परंतु महावीर जयंती के अन्य कार्यक्रमों में सहयोग करते थे।
स्वर्गीय शिखर चंद जैन अपने 3 पुत्र राजेन्द्र (Rajendra), विजय (Vijay) और संजय (Sanjay) सहित पौत्र चकोर (Chakor) सहित तीन पुत्रियां एवं नाती पोते छोड़ गए हैं। पिछले कुछ दिनों से वह शारीरिक रूप से दुर्बल थे, लेकिन मानसिक चेतना उनकी पूरी थी। अचानक हृदय गति रुकने से बुधवार को उनका दुखद निधन हो गया।
मध्य प्रदेश विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष एवं विधायक डॉ सीतासरन शर्मा (Dr. Sitasaran Sharma), पूर्व विधायक गिरिजाशंकर शर्मा (Girijashankar Sharma), पूर्व गृहमंत्री विजय दुबे काकू भाई (Vijay Dubey Kaku Bhai), पूर्व विधायक अंबिका प्रसाद शुक्ला (Ambika Prasad Shukla), उद्योगपति सतीश अग्रवाल सांवरिया (Satish Agarwal Sanwaria), कैलाश शर्मा (Kailash Sharma), हेमंत शुक्ला (Hemant Shukla), गोविंद बांगड़ (Govind Bangar), कर्मवीर गांधी (Karmaveer Gandhi), मुकेश जैन (Mukesh Jain), अरविंद गोइल ( Arvind Goil), पंकज जैन (Pankaj Jain) सहित प्रमुख व्यक्तियों ने स्वर्गीय जैन के निधन पर श्रद्धांजलि अर्पित की है। जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष प्रमोद पगारे (Pramod Pagare) ने कहा कि उन्होंने अपने परिवार के बुजुर्ग व्यक्ति को खो दिया। जिनका शहर एवं उनके परिवार पर सदैव सहयोग रहता था।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!