राष्ट्रीय योगासन स्पर्धा में श्रुतुजा ने स्वर्ण पदक जीता

राष्ट्रीय योगासन स्पर्धा में श्रुतुजा ने स्वर्ण पदक जीता

फरीदाबाद में हुई स्पर्धा में किया प्रदर्शन
इटारसी। शहर की योगा शिक्षक श्रुतुजा राहुल राखड़े (Yoga teacher Shrutuja Rahul Rakhde) ने फरीदाबाद (Faridabad) में आयोजित 40 वी राष्ट्रीय योगासन चैम्पियनशिप (National Yogasana Championship) में बेहतर प्रदर्शन करते हुए प्रथम दस विजेताओं की श्रेणी में सातवां नंबर हासिल किया। देश भर से आए 38 योगा प्रशिक्षकों के बीच यह मुकाबला हुआ था। इससे पूर्व राज्य स्पर्धा में उन्होंने प्रथम स्थान प्राप्त किया था।
मूलत: अमरावती (Amravati) निवासी श्रुतुजा का विवाह इटारसी के राहुल राखड़े से हुआ। बचपन से वे मलखंभ का अभ्यास कर इसमें महारथ पा चुकी हैं, इसके बाद उनका रुझान योगा की तरफ हुआ। अमरावती के एचबीपीएम (HBPM) महाविद्यालय से वे योगा में बीए कर रही हैं। श्रुतुजा का कहना है कि योग हमारे भारत के ऋषि मुनियों की खोज है, जिसे आज पश्चिमी देश भी अपना रहे हैं। अपने शरीर को किस तरह निरोग रखा जाए, इसके सारे उपाय योग में बताए गए हैं। भविष्य में श्रुतुजा योगा महाविद्यालय खोलने का सपना रखती हैं, उन्होंने बताया कि इस विधा में उन्होंने सात स्वर्ण पदक एवं नेपाल की अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धा में भी स्वर्ण पदक हासिल किया है। अपने लचीले शरीर से वे विभिन्न जटिल योग मुद्राओं का प्रदर्शन करती हैं, विश्व योगा दिवस पर अंग्रेजी वर्णमाला के अक्षरों से हैप्पी योग दिवस की मुद्राएं बनाकर बेहतर प्रदर्शन किया था। श्रुतुजा ने कहा कि वे जल्द ही शहर के स्कूल-कालेजों में अपनी योग मुद्राओं का प्रदर्शन कर युवाओं को योग से निरोग रहने का संदेश देंगी।



CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!