जैन समाज से नाराज था चोर, इसलिए करता है मंदिरों को टारगेट

जैन समाज से नाराज था चोर, इसलिए करता है मंदिरों को टारगेट

दानपेटी से रूपए चोरी करने के बाद कुछ हिस्सा देता है गरीबो को

इटारसी/होशंगाबाद। सिटी पुलिस ने बीती रात पार्श्वनाथ जैन मंदिर में ताले तोडते एक चोर को गिरफ्तार किया। जानकारी के अनुसार आरोपित जैसीनगर जिला सागर निवासी नीलेश राजपूत है। यह चोर मप्र के कई जिलों में करीब 15 जैन मंदिरों में चोरी कर चुका है। यह केवल जैन मंदिरों को ही टारगेट बनाता है। चोर 3 बार जेल भी जा चुका है। सबसे खास बात की नीलेश जिन भी मंदिरों की दान पेटी से पैसा चुराता है वह उसका 10 फीसदी हिस्सा गरीबो में बांट देता है।

जैन समाज से है नाराज
सिर्फ जैन मंदिरों को ही टारगेट करने के सवाल पर उसने कहा कि कुछ साल पहले वह बंडा के जैन मंदिर के बाहर बैठकर शराब पी रहा था। तभी मंदिर के कर्मचारी ने उसे रात में डांट दिया। विवाद हुआ तो उसने बियर की बोतल उसके सिर में मार दी थी। इसके बाद कर्मचारी ने सीटी बजाकर पूरे समाज को बुला लिया। यहां उसकी जमकर पिटाई के बाद पुलिस ने झूठा मामला बना दिया इस घटना के बाद से वह जैन समाज से चिढ़ने लगा था इसी बात को लेकर वह सिर्फ जैन मंदिरों के ताले तोड़कर चोरियां कर रहा है। हर बार एक जिले में घटना कर वह दूसरी जगह चोरी करने जाता है। नीलेश ने बताया कि उसके गांव में खेती बाड़ी और पूरा परिवार भी है। जांच अधिकारी संजय रघुवंशी ने बताया कि आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मंदिर का ताला तोड़ने के दौरान गश्त पर निकले पुलिसकर्मियों को देख वह भाग रहा था बस स्टैंड के पास उसे पकड़ लिया गया।

 

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: