27 फरवरी से 1 मार्च तक लगेगा तिलक सिंदूर मेला

27 फरवरी से 1 मार्च तक लगेगा तिलक सिंदूर मेला

– कमिश्नर (Commissioner) और कलेक्टर (Collector) ने मेले की तैयारियों का लिया जायजा
– सुरक्षा के लिए पुलिस और होम गार्ड की तैनाती रहेगी
– वन विभाग से बंदरों से सुरक्षा के इंतजाम करने को कहा
– खटामा मार्ग को शीघ्र पूर्ण करने एजेंसी को दिए निर्देश
इटारसी। जिले के सबसे बड़े आदिवासी क्षेत्र का मेला तिलक सिंदूर (Tilak Sindoor) की तैयारियों का जायजा लेने आज कमिश्रर और कलेक्टर तिलक सिंदूर पहुंचे। यह मेला 27 फरवरी से 1 मार्च महाशिवरात्रि (Mahashivratri) के दिन तक लगेगा।

मेले में बच्चों के मनोरंजन के लिए झूले, आदिवासी लोगों के लिए पारंपरिक उपयोगी सामग्री, खानपान की दुकानें और पूजन सामग्री दुकानें लगेंगी। तिलक सिंदूर में गुफा मंदिर है, जहां जिले के अलावा प्रदेश के अनेक क्षेत्रों से शिव भक्त भगवान की पूजा करने आते हैं। इटारसी ((Itarsi) ) के पास सुप्रसिद्ध तिलक सिंदूर मेले का आयोजन 27 फरवरी से महाशिवरात्रि 1 मार्च तक आयोजित किया जाएगा। कमिश्नर नर्मदापुरम मालसिंह (Malsingh) ने मंगलवार 22 फरवरी को कलेक्टर नर्मदापुरम नीरज कुमार सिंह (Neeraj Kumar Singh) के साथ इटारसी पहुंचकर तिलक सिंदूर मेले की तैयारियों का जायजा लिया। कमिश्नर मालसिंह ने तिलक सिंदूर मेला स्थल एवं मंदिर का भ्रमण कर मेले की तैयारियों के संबंध में तिलक सिंदूर मेला समिति एवं स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों से जानकारी ली एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिए।


कमिश्नर ने मेला स्थल पर श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए चाक चौबंद व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि मेला स्थल पर पुलिस (Police), होमगार्ड (Home Guard) एवं राजस्व के अमले की तैनाती की जाएं। मेला स्थल पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहे। कमिश्नर ने कहा कि मेला स्थल के विभिन्न प्वाइंट्स (Points) पर चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ (Paramedical Staff) की ड्यूटी (Duty) लगाई जाए। साथ ही पूरे मेला क्षेत्र में पर्याप्त प्रकाश, पेयजल, स्वच्छता के बेहतर इंतजाम रहें। उन्होंने वन विभाग को इस क्षेत्र में मधुमक्खियों एवं बंदरों से सुरक्षा के लिए आवश्यक इंतजाम करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यहां सघन वृक्षारोपण करें। मंदिर परिसर के आस पास श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए आवश्यक सुरक्षात्मक उपाय किए जाएं। इस दौरान अधिकारियों ने तिलक सिंदूर मंदिर स्थित भगवान शिव के दर्शन लाभ भी लिए। इसके बाद कमिश्नर मालसिंह ने अधिकारियों के साथ मेला पहुंच मार्ग खटामा का भी निरीक्षण किया और निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश निर्माण एजेंसी को दिए। निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम (CEO Manoj Sariam), एसडीएम इटारसी मदन सिंह रघुवंशी (SDM Itarsi Madan Singh Raghuvanshi), नायब तहसीलदार विनय प्रकाश ठाकुर (Naib Tehsildar Vinay Prakash Thakur) सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!