आदिवासी भूमका प्रशिक्षण 6 मई से, सामूहिक विवाह 12 मई को

आदिवासी भूमका प्रशिक्षण 6 मई से, सामूहिक विवाह 12 मई को

इटारसी। आदिवासी सेवा समिति तिलक सिंदूर (Tribal Service Committee Tilak Sindoor) के तत्वावधान में 6 से 11 मई 2022 तक कोया पुनेम धर्म गाथा एवं भूमका प्रशिक्षण का आयोजन होगा। इसके अंतर्गत क्षेत्र के भगत, भूमका, परिहार को आदिवासी रीति रिवाज से विवाह, मुंडन संस्कार, गृह प्रवेश आदि कर्मकांड का ज्ञान दिया जाएगा।
12 मई 2022 को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना (Chief Minister Kanyadan Yojana) के तहत सामूहिक विवाह सम्मेलन प्रस्तावित है। मध्य प्रदेश सरकार (Government of Madhya Pradesh) ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की घोषणा कर दी है, लेकिन अभी अधिसूचना जारी नहीं होने से योजना के प्रारूप फार्म प्राप्त नहीं हुए हैं। समिति ने जिला पंचायत सीईओ एवं ब्लॉक से भी संपर्क किया है। समिति ने अपने स्तर पर क्षेत्र में जनसंपर्क शुरू कर दिया है एवं योजना का लाभ लेने के लिए वर वधुओं के परिवार को प्रेरित किया है।
समिति के मीडिया प्रभारी विनोद वारिबा ने बताया कि कार्यक्रम आदिवासी रीति रिवाज से किए जाएंगे। इनके अलावा आदिवासी सांस्कृतिक रंगारंग कार्यक्रम की प्रस्तुति भी की जाएगी। सम्मेलन में लगभग 250 जोड़ों के आने की संभावना है। आदिवासी सेवा समिति तिलक सिंदूर ने बताया कि वर्ष 2019 में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत तिलक सिंदूर प्रांगण से 161 जोड़े विवाह सूत्र में बंधे थे। वर्ष 2020-21 में कोरोना के कारण सम्मेलन की अनुमति शासन द्वारा नहीं मिली थी इसलिए विवाह सम्मेलन नहीं हो सके।
आज की बैठक में कार्यक्रम के लिए भोजन एवं पंडाल व्यवस्था के लिए जगह का मुआयना किया। समिति के संरक्षक सुरेंद्र धुर्वे ने बताया कि सम्मेलन की तैयारियां शुरू हो चुकी है। गांव गांव प्रचार-प्रसार शुरू हो गए हैं। ग्राम समिति इकाई से संपर्क किया जा रहा है। बैठक में समिति अध्यक्ष बलदेव तेकाम, उपाध्यक्ष मन्ना दादा, समिति सचिव जितेंद्र इवने, वरिष्ठ सलाहकार अध्यक्ष जगदीश ककोडिय़ा राजकुमार, श्यामलाल बारीबाख् कृपाराम उईके, ब्रदी धुर्वे ग्रामीणजन उपस्थित रहे।



CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!