स्वच्छ भारत मिशन में महिलाओं की भूमिका पर कार्यशाला

स्वच्छ भारत मिशन में महिलाओं की भूमिका पर कार्यशाला

इटारसी। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर शासकीय कन्या महाविद्यालय में स्वच्छ भारत अभियान में महिलाओं की भूमिका विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया।
स्वागत उद्बोधन में प्राचार्य डॉ आरएस मेहरा (Principal Dr. RS Mehra) ने कहा कि वर्तमान समय की मांग है, कि महिलाओं के प्रति समतामूलक व सहयोगी व्यवहार अपनाएं तभी वे हर क्षेत्र में सशक्त होकर अपना स्वाभिमान पूर्वक जीवन जी सकते हैं, तभी इस दिवस की सार्थकता होगी। विषय प्रवर्तन करते हुए कार्यशाला की समन्वयक डॉ हरप्रीत रंधावा (Dr. Harpreet Randhawa) ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन ने देश में स्वच्छता की अलख जगाई है। महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के विचारों से प्रेरित यह अभियान विश्व में देश की छवि को निरंतर सुधार रहा है।

मुख्य अतिथि मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्रीमती हेमेश्वरी पटले (Chief Municipal Officer Mrs. Hemeshwari Patle) ने अपने उद्बोधन में स्वच्छ भारत अभियान में छात्राओ की मुख्य भूमिका की बात कही। उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान सिर्फ प्रशासनिक कार्य नहीं है, बल्कि यह एक जनांदोलन है। महाविद्यालय में संचालित जेंडर चैंपियन ग्रुप (Gender Champion Group) के प्रभारी डॉ शिरीष परसाई (Dr. Shirish Parsai) ने नारी जीवन पर स्वरचित कविता पाठ किया और कहा कि आज महिलाएं समाज को सभ्य बनाने से लेकर देश के विकास में अपनी महती भूमिका निभा रही हैं, अत: समाज में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित कर उनका मनोबल बढ़ाने के लिए अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है।

हेमंत गोहिया (Hemant Gohia) ने गीत के माध्यम से नारी श्रेष्ठता को परिभाषित किया। कार्यक्रम में अनेक छात्राओं ने भी सांस्कृतिक कार्यक्रमों मेंं भाग लिया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि द्वारा पोस्टर (Poster) एवं स्लोगन (Slogan), दीर्घा का उद्घाटन एवं अवलोकन किया। संचालन रसायन शास्त्र की प्राध्यापक डॉ श्रद्धा जैन (Dr. Shraddha Jain) ने एवं आभार प्रदर्शन डॉ शिखा गुप्ता (Dr. Shikha Gupta) ने किया।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!