पुलिस भर्ती परीक्षा पर उठाये युवा कांग्रेस ने सवाल

पुलिस भर्ती परीक्षा पर उठाये युवा कांग्रेस ने सवाल

इटारसी। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में युवाओं के भविष्य के साथ भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की सरकार खिलवाड़ कर रही है, जिसका युवा कांग्रेस (Youth Congress) विरोध करते है। आज युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष हुजैफा बोहरा एवं विधानसभा होशंगाबाद के अध्यक्ष शशांक गोल्डी बैस ने उच्च शिक्षा मंत्री एवं परिवहन मंत्री से तत्काल इस्तीफे की मांग की है।
युवा कांग्रेस पदाधिकारियों ने आज मीडिया (Media) को जारी मांग पत्र में कहा है कि मप्र में आरक्षकों की भर्ती में बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़ा हुआ है। जिनको पहले क्वालीफाई किया था उनको बाद में डिस-क्वालीफाई कर दिया है। मप्र में युवाओं को सरकारी नौकरी मिलना अब नामुमकिन सा लगने लगा है जिससे युवा पलायन कर रहे हैं। प्रदेश सरकार ने इंफोसिस (Infosys), टीसीएस (TCS) जैसी कंपनियों में प्रदेश के युवाओं को प्राथमिकता का वादा किया था, वह झूठा साबित हो रहा है। उन्होंने छिंदवाड़ा का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां हर कंपनी में शत प्रतिशत काम करने वाला स्थानीय होता है, इस मॉडल को क्या मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) बुदनी में लागू करेंगे।
युवा कांग्रेस ने कहा कि मप्र में जिला रोजगार कार्यालयों में 35 लाख बेरोजगार पंजीकृत हैं, जबकि फर्जीवाड़ा के चलते 50-70 लाख युवा बेरोजगार हैं, इनको कभी सरकारी नौकरी मिल सकेगी, इसमें संदेह है। शिक्षक वर्ग-3 भर्ती परीक्षा और टीईटी-2020 परीक्षा की सीबीआई जांच, केबिनेट मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत को मंत्रिमंडल से बाहर करने, अतिथि शिक्षकों को बहाल करने सहित कई अन्य मांग भी युवा कांग्रेस ने सरकार से की है।



CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!