स्पिक मैके का राजस्थानी लोक नृत्य एवं सूफी गायन बहुत पसंद किया

इटारसी। आयुध निर्माणी सांस्कृतिक समिति के तत्वावधान में स्पिक मैके इटारसी चैप्टर ने राजस्थानी लोक नृत्य एवं सूफी गायन का कार्यक्रम आयुध निर्माणी के सभागार में कराया।

मुख्य अतिथि आयुध निर्माणी के महाप्रबंधक एसपी शैन्द्रे, अपर महाप्रबंधक एके प्रसाद एवं स्पिक मैके अध्यक्ष हेमंत शुक्ला, उपाध्यक्ष सुधीर गोठी, जम्मू सिंह उप्पल, समन्वयक सुनील बाजपेई, डॉ केसी साहू, राजकुमार दुबे उपस्थित हुए। आयुध निर्माणी संस्कृति समिति के अध्यक्ष एवं आयुध निर्माणी उप प्रबंधक गिरीश पाल ने अतिथियों एवं मंच कलाकारों का पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया।
गणेश वंदना से आरंभ कार्यक्रम में स्वागत गीत केसरिया बालम पधारो म्हारे देश की प्रस्तुति से सभागार तालियों की गडग़ड़ाहट से गूंज उठा। राजस्थानी लोकगीत श्री राधा रानी बांसुरी दे दो हमारी की शानदार प्रस्तुति ने सभागार में उपस्थित दर्शकों के मन को मोह लिया। राजस्थानी लोक नृत्यांगना समदा एवं आरती के भवाई एवं कालबेलिया व घूमर नृत्यों ने सभागार में उपस्थित दर्शकों को तालियां बजाने को विवश कर दिया।
कार्यक्रम में राजस्थानी लोकगीत नींबूडा नींबूडा लाई दे, छाप तिलक मोसे छीनी तो उसे नैना मिलाइके, दमादम मस्त कलंदर, सोचता हूं कि वह कितने मासूम थे क्या से क्या हो गए देखते देखते, छोटी सी उम्र बाबू सा की शानदार प्रस्तुति ने कार्यक्रम को यादगार बना दिया। मुख्य अतिथि एवं आयोजन निर्माणी के महाप्रबंधक शेन्द्रे ने राजस्थानी लोक कलाकारों के ग्रुप लीडर भूगर खां गायक एवं हारमोनियम वादक सखी खां गायक नेहरू खां तानपुरा वादक भलुराम कमयाचा वादक भुगड़े खां ढोलक वादक भुट्टा खां मंजीरा वादक रमेश एवं नृत्यांगना समदा व आरती का सम्मान किया।
संचालन आयुध निर्माणी संस्कृति समिति के सचिव एवं कनिष्ठ कार्य प्रबंधक नीरज चौहान ने एवं आभार स्पिक मैके के समन्वयक सुनील बाजपेई ने जताया। कार्यक्रम में केंद्रीय विद्यालय के छात्र छात्राओं सहित आयुध निर्माणी कर्मचारियों की परिवार सहित भारी संख्या में उपस्थिति रही।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!