MP Board: माशिमं ने दी बड़ी राहत, इस दिन आएंगे 10वीं के रिजल्ट

MP Board: माशिमं ने दी बड़ी राहत, इस दिन आएंगे 10वीं के रिजल्ट

शिक्षकों द्वारा बच्चों के प्राप्त अंकों को मंडल द्वारा OMR शीट में अंकित किया जाना है।

भोपाल। मध्यप्रदेश में MP Board 10वीं के छात्रों के रिजल्ट तैयार किए जा रहे हैं। इस बीच माध्यमिक शिक्षा मंडल (Board of Secondary Education) ने अपनी 14 मई के एक आदेश में कुछ संशोधन किए हैं। जिसके बाद माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा 10वीं की परीक्षा आयोजित नहीं किए जाने के संबंध और आंतरिक और प्रैक्टिकल परीक्षा (Practical Exam) की OMR शीट भरने के संबंध में दिशा निर्देश दिए गए। साथ ही अब 10वीं की परीक्षा के परिणाम छात्रों को 10 जून के के बाद ही उपलब्ध कराए जाएंगे। आतंरिक मूल्यांकन के आधार पर अंक मंगाते समय बोर्ड ने पिछले तीन वर्षों के औसत देखने का प्रावधान रखा है। किसी भी स्कूल का रिजल्ट पिछले तीन वर्षों के औसत से प्लस दो फीसदी से ज्यादा नहीं हो सकता। इससे परिणाम सही रहेंगे।

आदेश जारी करते हुए माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कहा कि मंडल द्वारा आदेश जारी किए गए। 14 मई के आदेश के संबंध में विभिन्न स्थान से प्राप्त आवेदन और समस्या को देखते हुए MP Board ने आदेश में संशोधन किया है। जिसके मुताबिक जिन संस्था द्वारा मंडल के आदेश के पूर्व प्रैक्टिकल परीक्षा की OMR सीट भर दी गई है। ऐसी संस्था को उनके एमपी ऑनलाइन (MP Online) के लॉगिन में मंडल द्वारा 24 मई से ऑनलाइन OMR शीट भरने की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

ऐसे संस्थान मंडल के आदेश के मापदंड अनुसार ऑनलाइन अंक भर सकेंगे। जो संस्था ऑनलाइन अंक भरने के विकल्प का चयन करेगी। उसे उस भाग के प्रैक्टिकल परीक्षा की OMR शीट जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी। माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जारी आदेश 4 मई के अनुसार MP Board 10वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी लेकिन प्रैक्टिकल भाग की OMR शीट में बच्चों के वार्षिक प्रदर्शन के आधार पर आंतरिक परीक्षा के अंक दिए जाएंगे।

वहीं NSFQ के विषय में बच्चों को अधिकतम 60 अंक निर्धारित किए गए हैं लेकिन अन्य विषयों में बच्चों को अधिकतम 20 अंक ही भरे जाने का प्रावधान किया गया है। शिक्षकों द्वारा बच्चों के प्राप्त अंकों को मंडल द्वारा OMR शीट में अंकित किया जाना है। जहां प्रायोगिक अधिक 100 में से 80 अंक होने पर OMR शीट में 48 अंक अंकित किए जा सकेंगे।

इसके अलावा 10वीं की परीक्षा परिणाम 31 मई तक पूरे करने के निर्देश माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा स्कूलों को दिए गए हैं। ऐसी स्थिति में शिक्षकों की समस्या थी कि जहां कोरोना काल की वजह से कई शिक्षक कोरोना संक्रमित है या छुट्टी पर है। रिजल्ट समय पर तैयार करना मुश्किल काम होगा। जिसके बाद माध्यमिक शिक्षा मंडल ने स्कूलों को सहूलियत देते हुए ओएमआर शीट जमा करने की अंतिम तिथि 10 जून कर दी है।

 

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: