मध्यप्रदेश में दिसंबर तक होगा संपूर्ण वैक्सीनेशन का लक्ष्य
मध्यप्रदेश में दिसंबर तक होगा संपूर्ण वैक्सीनेशन का लक्ष्य

मध्यप्रदेश में दिसंबर तक होगा संपूर्ण वैक्सीनेशन का लक्ष्य

महाअभियान की चार तारीखों को ध्यान में रखकर सभी करें सहयोग

होशंगाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने देश के नागरिकों को स्वदेशी वैक्सीन के माध्यम से कोविड से बचाव का सुरक्षा चक्र प्रदान किया है। मध्यप्रदेश ने वैक्सीनेशन में देश के अग्रणी रहकर प्रधानमंत्री के संकल्प को पूरा करने का प्रयास किया है। आगामी दिसम्बर माह तक प्रदेश के सभी पात्र लोगों को कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीन का द्वितीय डोज लगाने का लक्ष्य है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपील में कहा है कि प्रदेश के सभी नागरिकों को इस कार्य में अपना सहयोग प्रदान करना है। मध्यप्रदेश दिसम्बर माह के अंत तक सभी नागरिकों को कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगाने का लक्ष्य प्राप्त कर लेगा।

इन तारीखों को रखें याद
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि वैक्सीन का दूसरा डोज लगाने का 100 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करने के लिए प्रदेश में नवम्बर माह की 10, 17 और 24 तारीख के अलावा 4 दिसम्बर को टीकाकरण महाअभियान चलाया जाएगा। इन तारीखों को सभी याद रखें। वैक्सीनेशन की बात हमारी मेल-मुलाकातों, बातचीत आदि में शामिल रहे। इससे सभी व्यक्तियों को वैक्सीन की दोनों डोज लगाने के लिए अनुकूल वातावरण बन जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस महाअभियान को सफल बनाने में सभी वर्गों को भागीदारी करनी है।

अन्य प्रांतों के लिए अनुकरणीय बना है मध्यप्रदेश
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कोविड-19 से पूर्ण सुरक्षा के लिए वैक्सीन के दोनों डोज लगवाना आवश्यक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ट्वीट कर प्रदेशवासियों से अपील की है कि जिस तरह आपने पहला डोज लगवाने में जागरूकता का परिचय दिया, उसी तरह दूसरे डोज के लिए भी आगे आएँ और प्रदेश में 100 प्रतिशत टीकाकरण और कोरोना मुक्त बनाने में अपना योगदान दें। अभी तक हुए टीकाकरण महाअभियानों में प्रदेश के नागरिकों की जागरूकता सराहनीय और अन्य प्रांतों के लिए अनुकरणीय है।

विद्यार्थियों का सहयोग रखा जाएगा याद
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में इस वर्ष संचालित कोरोना टीकाकरण के विशेष अभियानों की वजह से 7 करोड़ से अधिक नागरिक वैक्सीन लगवा चुके हैं। वैक्सीनेशन के कार्य को पूर्णता तभी मिलेगी जब हर व्यक्ति स्वयं दोनों डोज लगवाने के साथ ही अपने मित्रों, परिचितों और रिश्तेदारों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करें। मध्यप्रदेश वैक्सीनेशन में प्रथम बना रहे, इसके लिए हमारे विद्यार्थी बंधु भी आगे आये हैं। वे घर-घर जाकर वैक्सीन के दोनों डोज लगवाने का आग्रह आम जनता से कर रहे हैं। विद्यार्थी वर्ग द्वारा दिए जाने वाले इस सहयोग को याद रखा जाएगा।

 

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!