तवा पुल कच्चे रास्ते से निकलना टोल से महंगा

तवा पुल कच्चे रास्ते से निकलना टोल से महंगा

– प्रशासन की अनदेखी, पास बनाने को तैयार वसूलीकर्ता
सोहागपुर/ राजेश शुक्ला। तवा पुल मरम्मत का काम पिछले 1 माह से अधिक समय से चल रहा है। इस दौरान प्रशासन की ओर से वैकल्पिक मार्ग बांद्राभान, सांगा खेड़ा , आरी होते हुए, का उपयोग पिपरिया की ओर आने जाने में किया जा रहा है। करीब 1 सप्ताह पूर्व तवा पुल के बाजू से रेत को हटाकर कथित ग्रामीणों द्वारा अस्थाई पुल का निर्माण किया गया है ।जिससे दोपहिया एवं छोटे वाहन और ट्रैक्टर निकाले जा रहे हैं। इसके लिए जो लोग वसूली कर रहे हैं उनकी पहचान प्रशासन को है या नहीं किसी को नहीं मालूम है। अस्थाई तवा पुल मार्ग से निकलने के लिए दोपहिया वाहनों से 10 रुपये ,ऑटो से 30 रुपये एवं जीप कार से 50 रुपये की वसूली की जा रही है । कहना न होगा यह वसूली टोल नाके की दर से महंगी पड़ रही है। पुराने चेतक के टोल नाके पर जीप एवं कार की दर 40 रुपये लिखी हुई है और अस्थाई पुल पर 50 रुपये अनजान लोगों द्वारा वसूल किए जा रहे हैं। राहगीर मजबूरी बस यह राशि वहां खड़े लोगों को दे रहे हैं लेकिन यह कोई नहीं कह पा रहा है कि इस राशि का उपयोग कौन कर रहा है ।

कौन करेगा हिसाब प्रशासन मौन, पास बनाने को तैयार वसुलीकर्ता #
अस्थाई पुल से वसूली के अधिकार ग्रामीण या ग्राम पंचायत को किसने दिए या कोई नहीं कह पा रहा है और यह राशि ग्राम पंचायत में जमा हो रही है या नहीं इसका भी कोई हिसाब नहीं है। बुधवार को अस्थाई तवा पुल से गुजरने पर वहां खड़े लोगों द्वारा गाड़ी रोककर ₹50 देने की मांग की गई । जब उनसे कहा गया हम रोज जाने जाने वाले हैं । तब बोले हम आपका पास बना देंगे। प्रशासन की अनदेखी के चलते नागरिक दिनदहाड़े लूटे जा रहे हैं। यदि प्रशासन चाहता तो स्वयं भी इस वैकल्पिक मार्ग का निर्माण कर राहगीरों को राहत दे सकता था।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!