प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु प्रेरक मार्गदर्शन कार्यशाला

प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु प्रेरक मार्गदर्शन कार्यशाला

इटारसी। शासकीय कन्या महाविद्यालय में स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ (Swami Vivekananda Career Guidance Cell) के अंतर्गत छात्राओं को आत्म निर्भर बनाने हेतु प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु प्रशिक्षण योजना के क्रियान्वयन हेतु कार्यशाला का आयोजन किया।
कार्यशाला में प्रेरक मार्गदर्शन के लिए विषय विशेषज्ञ के रूप में जेपी यादव (JP Yadav), संभागीय उपायुक्त, अनुसूचित जाति तथा जनजाति कार्य, नर्मदापुरम् संभाग, होशंगाबाद उपस्थित थे। इस अवसर पर प्राचार्य डॉ. आरएस मेहरा (Principal Dr. RS Mehra) ने बताया कि जीत और हार आपकी सोच पर निर्भर करती है, मान लो तो हार होगी, ठान लो तो जीत होगी। सफलता की महत्वपपूर्ण बात यह है कि वे मेहनत करने वालों के साथ देती है। श्री जेपी यादव ने कहा कि एकाग्रता, अनुशासन, समय का प्रबंधन, यदि हो तो सफलता अवश्य मिलेगी। जमीन से लेकर आसमान तक सभी जा सकते हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रम हेतु दक्ष, रूचि रखने वाले स्वैच्छिक सेवा देने के लिए इच्छुक प्राध्यापकों चयन महाविद्यालय स्तर पर किया जाना है, जिससे अन्य विषयों में छात्राओं को प्रेरक मार्गदर्शन मिल सके। इस प्रकार प्रशिक्षण देने से उनकी प्रतिभा भी प्रदर्शित होगी। डॉ. संजय आर्य (Dr. Sanjay Arya) ने कहा कि धैर्य रखें, अपना कार्य मेहनत और ईमानदारी से करते रहें, सफलता आज नहीं तो कल अवश्य मिलेगी। स्नेहांशु सिंह (Snehanshu Singh) ने कहा कि जीवन में कभी हताश नहीं होना चाहिए, संघर्ष करके हम अपने जीवन को निखार सकते हैं। अगर जीवन में सफलता प्राप्त करनी है तो मेहनत पर विश्वािस करें।
इस अवसर डॉ. हरप्रीत रंधावा, डॉ. मुकेश चंद्र बिष्ट, रवीन्द्र कुमार चौरसिया, अमित कुमार, डॉ. शिरीष परसाई, डॉ. पुनीत सक्सेना, डॉ. श्रद्धा जैन, क्षमा वर्मा, रश्मि मेहरा, सरिता मेहरा, राजेश कुशवाह एवं छात्राऐं उपस्थित रहे।

 

 

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!