नर्मदा जल को आचमन योग्य बनाना हमारा उद्देश्य – वनमंत्री श्री शैजवार

नर्मदा जल को आचमन योग्य बनाना हमारा उद्देश्य - वनमंत्री श्री शैजवार

भटगांव में हुआ जन संवाद का कार्यक्रम
होशंगाबाद। माँ नर्मदा मोक्षदायनी, प्राणदायनी, पाप नाशनी है। यह सदा प्रदूषण से मुक्त रहे, अविरल निर्मल बहती रही और माँ नर्मदा का पानी आचमन योग्य हो यह हमारा उद्देश्य है। उक्त बात प्रदेश के वनमंत्री श्री गौरीशंकर शैजवार ने भटगाँव में आयोजित नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा के जन संवाद कार्यक्रम में कही। वनमंत्री श्री शैजवार ने कहा कि माँ नर्मदा में कूड़ा कर्कट, मल व गंदगी नही डाली जाए इसके पानी को हमेशा निर्मल साफ व शुद्ध रखा जाए। उन्होंने कहा कि पानी की शुद्धता के लिए वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाए जायेंगे जिससे नर्मदा का पानी शुद्ध रहेगा और अशुद्ध पानी को भी रिसाइकिलिंग कर किसानो को खेत में सिंचाई हेतु दिया जाएगा।
उन्होंने बताया कि नर्मदा के सभी घाटो में महिलाओ के लिए चेजिंग रूम बनाए जायेंगे। उन्होंने नर्मदा के पानी की महिमा के बारे में बताया कि नर्मदा पुराण में कहा गया है कि सभी नदिया समाप्त हो जाएगी किन्तु नर्मदा अनंत काल तक रहेगी, वर्तमान में नर्मदा के पानी से प्रदेश के 5 स्थानो में बिजली पैदा की जा रही है। इसके पूर्व नमामि देवी सेवा के ग्राम गलचा से भटगाँव पहुँचने पर भारतीय परम्परा के अनुसार यात्रा के ध्वज एवं कलश की पूजा अर्चना कर जन संवाद का कार्यक्रम प्रारंभ किया गया। जन संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नरसिंहपुर-होशंगाबाद सांसद राव उदय प्रताप सिंह ने कहा कि शासन ने नर्मदा नदी की चिंता की है अब समय आ गया है कि हम सब मिलकर नर्मदा की चिंता करे उसे प्रदूषण से मुक्त कराएं। साध्वी प्रज्ञा भारती ने कहा कि नमामि देवी नर्मदे की यात्रा राजनैतिक यात्रा नही है यह अध्यात्मिक यात्रा है इसमें सभी धर्मो एवं जाति के लोगो ने सहयोग किया है। कार्यक्रम अवसर पर सोहागपुर के विधायक श्री विजयपाल सिंह, साध्वी प्रज्ञा भारती, योगमाया तीर्थ सहित अनेक जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण जन मौजूद थे।
हुआ नमामि देवी नर्मदे यात्रा का स्वागत
आज नमामि देवी सेवा यात्रा का पिपरिया सहलबाड़ा से सोहागपुर के ग्राम माछा में प्रवेश हुआ, यह यात्रा प्रात: 9 बजे माछा पहुँची जहां इसका ग्रामीणो ने उत्साहपूर्वक स्वागत किया। प्रात: 11.30 बजे यात्रा माछा से अजेरा पहुँची एवं अजेरा से भानपुर पहुँची। दोपहर 2.30 बजे जब सेवा यात्रा भानपुर पहुँची तो ग्रामीणो ने यात्रा का स्वागत किया। ग्रामीणो ने माँ नर्मदा के जयकारो के बीच यात्रा के ध्वज एवं कलश की परम्परागत रूप से पूजा अर्चना की। नौ कन्याओ ने कलश यात्रा निकाली। इस अवसर पर मध्यप्रदेश खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे भी मौजूद थे।
गलचा में दिखा उत्साह
पैदल यात्री भानपुर से जब गलचा पहुँचे तब गलचा के ग्रामीण जनो ने उत्साह पूर्वक उन सबका स्वागत किया। परम्परागत रूप से कन्याओ ने सर पर कलश रखकर यात्रा का स्वागत किया। यहाँ जन प्रतिनिधियों एवं ग्रामीणो ने कन्यापूजन भी किया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: